भारत

झारखंड: दावत में बीफ परोसे जाने की अफ़वाह के बाद गांव में तनाव

कोडरमा ज़िले के नावाडीह गांव में भीड़ ने कई घरों में तोड़फोड़ के साथ ही वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया. गांव में धारा 144 लागू की गई.

koderma

झारखंड के कोडरमा ज़िले के डोमचांच थानाक्षेत्र के नावाडीह गांव में मंगलवार सुबह एक खेत में मवेशी के खुर और सींग मिलने की घटना के बाद दो समुदायों के बीच तनाव फैल गया.

दरअसल यह खुर और सींग गांव के निवासी जुम्मन मियां के लहसुन के खेत में मिले थे और एक दिन पहले यानी सोमवार रात जुम्मन मियां के घर उनके बेटे की शादी का रिसेप्शन था.

इस आधार पर गांव के कुछ लोगों को शक हुआ कि दावत में गोमांस परोसा गया था. इसके बाद सैकड़ों की संख्या में इलाके के लोग इस बात की जानकारी लेने के लिए जुम्मन मियां के घर धमक पड़े. इस बात को लेकर दोनों समुदायों के लोगों की झड़प हो गई.

दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट के अनुसार, आक्रोशित भीड़ ने जुम्मन मियां समेत इलाके के तकरीबन एक दर्जन लोगों के घरों पर हमला बोल दिया और वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया.

प्रभात ख़बर की रिपोर्ट के अनुसार, तकरीबन 30 घरों में तोड़फोड़ करने के साथ ही एक धार्मिक स्थल में घुसकर तोड़फोड़ की गई और धार्मिक पुस्तकों को जला दिया गया. इसके अलावा क़रीब 17 मोटरसाइकिल, एक बोलेरो, एक स्विफ्ट कार व दो टेंपो को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया गया.

रिपोर्ट के अनुसार, मौके पर पहुंची पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को वहां से हटा दिया. पथराव और लाठीचार्ज में दो से तीन लोगों के घायल होने की सूचना है. एक आठ साल के बच्चे समेत गांव के जुम्मन मियां और इजरायल मियां घायल हुए.

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, दिन में करीब 11:30 बजे तीन लोगों की गिरफ़्तारी की ख़बर के बाद लोग एक बार फिर आक्रोशित हो उठे और दूसरे मोहल्ले जाकर समुदाय विशेष के लोगों पर फिर से हमला कर दिया.

फिलहाल गांव में धारा 144 लागू कर दी गई है और पुलिस बल तैनात कर दिया है.

दैनिक भास्कर से बातचीत में जुम्मन मियां के भाई सलामत मियां ने बताया कि घटना के बाद से पूरा परिवार दहशत में है. हम लोग गांव में नहीं रहना चाहते हैं. शादी की पार्टी के लिए क़रीब डेढ़ क्विंटल मुर्गा आया था. बीफ परोसे जाने की बात अफवाह है.

प्रभात ख़बर से बातचीत में कोडरमा की एसपी शिवानी तिवारी ने कहा है, ‘नावाडीह में स्थिति अब पूरी तरह नियंत्रण में है. तोड़फोड़ व उत्पात मचाने वालों को किसी भी हाल में बक्शा नहीं जाएगा. सभी को चिह्नित किया जा रहा है. पुलिस क़ानून के अनुसार काम करेगी. लोग संयम रखें और किसी भी अफवाह पर ध्यान न दें.’

मालूम हो कि दो दिन पहले भी जयनगर के पास सांथ गांव में इसी तरह पशु की हत्या का मामला सामने आने के बाद गांव का माहौल तनावपूर्ण हो गया था.

Comments