राजनीति

योगी मंत्रिमंडल में शामिल एकमात्र मुस्लिम मोहसिन रज़ा कौन हैं?

भाजपा ने उत्तर प्रदेश में भले ही किसी मुसलमान को टिकट नहीं दिया था लेकिन योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में एकमात्र मुसलमान मोहसिन रज़ा को जगह मिली है.

mohsin1

(साभार: mohsinrazacricketer.wordpress.com)

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रविवार को योगी मंत्रिमंडल ने शपथ ली. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, कलराज मिश्र, वेंकैया नायडू, उमा भारती, रविशंकर प्रसाद, संतोष गंगवार, अनुप्रिया पटेल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू तथा उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत अनेक वरिष्ठ नेता उपस्थित थे.

योगी आदित्यनाथ राज्य के 21वें और भाजपा के चौथे मुख्यमंत्री हैं. योगी के शपथ ग्रहण के साथ ही राज्य में भाजपा का 15 साल का सत्ता से बनवास समाप्त हो गया.

मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री बनाये गये तीनों में से कोई भी विधायक नहीं है. कई बार विवादों में रहे आदित्यनाथ के पास पहले का कोई भी प्रशासनिक अनुभव नहीं है और संभवत: इसका संतुलन बिठाने के लिये ही दो उप मुख्यमंत्री बनाये गये हैं.

मंत्रिमंडल में जातीय समीकरण साधने की कोशिश की गई है और अगड़ी तथा पिछड़ी जातियों के बीच संतुलन बनाने का प्रयास किया गया है. इसमें मोहसिन रज़ा के रूप में एक मुस्लिम राज्यमंत्री को भी शामिल किया गया है.

रणजी मैच खेल चुके हैं मोहसिन रजा

लखनऊ के रहने वाले मोहसिन रज़ा का जन्म 15 जनवरी 1968 को हुआ था. में पैदा हुए हैं. पूर्व क्रिकेटर मोहसिन रज़ा कई रणजी मैच खेल चुके हैं. अभी वह अपने भाई के साथ क्रिकेट अकादमी चलाते हैं.मोहसिन रज़ा के भाई अर्शी रज़ा कांग्रेस के नेता हैं.

मोहसिन ने लखनऊ के गवर्नमेंट जुबली इंटर कॉलेज से पढ़ाई की है. बाद में उन्होंने लखनऊ यूनिवर्सिटी से स्नातक किया है. मोहसिन ने 2013 में भाजपा की सदस्यता ली थी. उन्हें तब भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने पार्टी ज्वाइन कराया था. मोहसिन अभी केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के करीबी बताए जाते हैं.


फिलहाल अभी वे विधान सभा और विधान परिषद के सदस्य नहीं है. नियम के अनुसार छह महीने के भीतर मोहसिन को किसी सदन का सदस्य बनना होगा.

मोहसिन रज़ा ने करीब दो साल पहले अपने ब्लॉग पर ‘मुस्लिमों को भाजपा का सपोर्ट क्यों करना चाहिए‘ शीर्षक से एक लेख लिखा था. उसमें वे कहते हैं,’ भाजपा एक राष्ट्रीय पार्टी है. हर आदमी कहता है कि यह एक हिंदू पार्टी है, पर यह पार्टी सभी को और हर धर्म को अवसर देने में विश्वास करती है. आज हर मुसलमान युवक विकास, नौकरी और समृद्धि की चाहत रखता है. भाजपा का राष्ट्रवादी एजेंटा इस सबका जवाब है.’

.