भारत

सीबीआई ने रिश्वतखोरी के मामले में जीएसटी आयुक्त के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया

सेंट्रल एक्साइज कानपुर में तैनात रहे संसार चंद पिछले साल गठित जीएसटी विभाग के पहले वरिष्ठ अधिकारी हैं जो भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं. उन पर एक कारोबारी से रिश्वत लेने के आरोप हैं.

CBI pti

(प्रतीकात्मक फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली:  केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने रिश्वत के एक मामले में उत्पाद एवं सेवा कर (जीएसटी) आयुक्त संसार चंद के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया है.

सीबीआई अधिकारियों ने यह जानकारी दी है. विभाग के किसी वरिष्ठ अधिकारी के खिलाफ यह पहला ऐसा मामला है.

उन्होंने बताया कि एजेंसी ने मामले में संसार चंद के अलावा उनकी पत्नी अविनाश कौर को भी गिरफ्तार किया है. कानपुर के एक कारोबारी से डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत लेने के मामले में कौर के खिलाफ भी आरोप पत्र दाखिल किया गया है.

सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि भारतीय राजस्व सेवा के 1986 बैच के अधिकारी उस समय सेंट्रल एक्साइज कानपुर में तैनात थे और पिछले साल गठित जीएसटी विभाग के पहले वरिष्ठ अधिकारी हैं जो भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं.

एजेंसी ने संसार चंद और उनकी पत्नी के साथ 13 अन्य लोगों के खिलाफ भ्रष्टाचार, षडयंत्र और अन्य आरोप लगाए हैं.

संसार चंद को इसी साल दो फरवरी को और उनकी पत्नी को पिछले महीने 21 मार्च को गिरफ्तार किया गया था. उन्हें विशेष सीबीआई अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया था.

सीबीआई ने इस संबंध में भारतीय दंड संहिता की धारा 120(बी) और भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की धारा 7, 11, 12 के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी.

सीबीआई ने गिरफ्तारी के समय आरोपी को ‘आदतन’ अपराधी बताया था, जो कारोबारियों से मासिक तथा साप्ताहिक आधार पर रिश्वत लेता था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments