नॉर्थ ईस्ट

असम में आईएसआईएस के झंडे लगाने के आरोप में 6 भाजपा कार्यकर्ता गिरफ़्तार

पिछले दिनों असम में दो जगह मिले थे आतंकी संगठन आईएसआईएस के कथित झंडे.

Assam ISIS Flags Twitter

फोटो साभार: एएनआई

असम पुलिस ने पिछले दिनों कथित आईएसआईएस के झंडे लगाने से संबंधी पूछताछ के लिए 6 लोगों को हिरासत में लिया है. बताया जा रहा है कि ये सभी भाजपा से जुड़े हैं.

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 7 मई की रात में पुलिस ने सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए नलबाड़ी जिले के बेल्सोर इलाके से भाजपा के इन सदस्यों को आईएसआईएस के झंडे लगाने में हाथ होने के संदेह में गिरफ्तार किया.

इन लोगों की पहचान तपन बर्मन, द्विप्ज्योति ठकुरिया, सोरोज्योति बैश्य, पुलक बर्मन, मोजामिल अली और मून अली के रूप में की गयी है.

इनमें से तपन बर्मन कांग्रेस के पूर्व पार्षद हैं, जो हाल ही में भाजपा से जुड़े हैं और इस समय इसकी जिला कमेटी के सदस्य हैं.

मालूम हो कि 3 मई को नलबाड़ी ज़िले में आतंकी संगठन आईएसआईएस का कथित झंडा एक पेड़ से बंधा मिला. इस पर लिखे संदेश में लोगों से इस समूह में ‘शामिल होने’ को कहा गया है.

कोइहाटी में एक खेत में पेड़ से बंधे इस झंडे को स्थानीय लोगों ने देखा और इस बारे में बेल्सोर थाने में इसकी सूचना दी.

इसके बाद पुलिस ने झंडे को हटा दिया. काले रंग के इस झंडे पर सफेद अक्षरों में ‘आईएसआईएस में शामिल हों’ लिखा था. इस पर अरबी भाषा के भी कुछ शब्द लिखे थे.

इससे पहले दो मई को गोलपाड़ा ज़िले में गोलपाड़ा नगर पुलिस चौकी के पास एक नदी के किनारे इसी तरह के छह झंडे मिले थे. इन झंडों पर ‘आईएस एनई’ लिखा था.

Comments