भारत

मध्य प्रदेश: सागर में बलात्कार के बाद नाबालिग को ज़िंदा जलाया

पुलिस ने बताया कि अधिक जल जाने की वजह से लड़की की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी. आरोपी को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

Sagar

सागर: मध्य प्रदेश के सागर ज़िले के बांदरी थाना क्षेत्र में गुरुवार शाम 28 वर्षीय पुरुष ने नाबालिग किशोरी के साथ कथित रूप से बलात्कार करने के बाद उसे जिंदा जला दिया. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

गौरतलब है कि बांदरी थाना क्षेत्र मध्य प्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह के विधानसभा क्षेत्र खुरई में आता है.

बांदरी पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक कमल सिंह ठाकुर ने शुक्रवार को बताया, ‘अधिक जल जाने की वजह से लड़की की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी. आरोपी रवि चढ़ार को गिरफ्तार कर लिया गया है.’

उन्होंने बताया कि आरोपी लड़की के गांव का ही रहने वाला है. गुरुवार शाम किशोरी के घर में अकेला देख वह घर में घुस गया और उसके साथ बलात्कार किया.

जब लड़की ने इसके बारे में परिजनों को बताने की धमकी दी तो आरोपी ने उसके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर उसे जिंदा जला दिया. किशोरी की मौके पर ही मौत हो गई.

लड़की के छोटे भाई ने बताया कि माता-पिता कहीं बाहर गए हुए थे. घर से धुआं निकलते देख वह तुरंत वहां पहुंचा और आरोपी रवि को घर के पीछे खड़ा देखा.

ठाकुर ने बताया कि आरोपी को भारतीय दंड विधान की सम्बद्ध धाराओं सहित पॉक्सो कानून के तहत गिरफ्तार किया गया है.

इस बीच मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ ने इस घटना पर ट्वीट करते हुए कहा, ‘फिर एक मासूम हुई सागर में बलात्कार का शिकार. वीभत्स व नृशंस घटना. ऐसी घटनाओं से प्रदेश हो रहा निरंतर शर्मसार. बलात्कार की घटनाएं व किसानों की आत्महत्याएं प्रदेश भर में जारी. हमारे मुखिया कर्नाटक चुनाव से लेकर राष्ट्रीय राजनीति में व्यस्त.’

दूसरी ओर, प्रदेश के गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि इस प्रकार की घटनाओं पर राजनीति नहीं करना चाहिए. सिंह ने कहा, ‘यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. मैं बालिका के घर जा रहा हूं. पीड़ित परिवार को दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है. हम पीड़ित परिवार को हर तरह की सहायता करेंगे.’

उन्होंने आगे कहा, ‘समाज की विकृतियां इस तरह की घटनाओं के लिए जिम्मेदार हैं. इन घटनाओं के लिए काफी हद तक पोर्न साइट जिम्मेदार हैं. हमनें इस तरह की 21 साइटों को बंद किया है और केंद्र सरकार को भी इस मामले में सख्त कदम उठाने के लिए पत्र लिखा है.’

सिंह ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार ने 12 साल से कम उम्र की बालिकाओं के साथ बलात्कार के आरोपियों को फांसी की सज़ा देने संबंधी कानून बनाने की देश में पहल की थी. इसके साथ ही प्रदेश में बलात्कार मामलों की जांच और अदालती कार्यवाही फास्ट ट्रैक कोर्ट में की जाती है.

Comments