भारत

आरएसएस मानहानि मामला: राहुल गांधी के ख़िलाफ़ आरोप तय, कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा- मैं दोषी नहीं हूं

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 6 मार्च 2014 को एक चुनावी सभा में आरोप लगाया था कि महात्मा गांधी की हत्या के पीछे आरएसएस का हाथ था.

rahul copy

भिवंडी की अदालत में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. (फोटो साभार: ट्विटर/कांग्रेस)

ठाणे: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक अदालत में अपने खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता की ओर से दायर मानहानि मामले में मंगलवार को अपराध स्वीकार नहीं किया.

गांधी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह 11 बजकर 10 मिनट पर भिवंडी स्थित अदालत पहुंचे. वहां जमा लोगों ने उनका अभिवादन किया और उनके समर्थन में नारे लगाए. अदालत के अंदर जब न्यायाधीश एआई शेख ने उनके खिलाफ आरोपों को पढ़ा तो गांधी ने कहा, ‘मैं दोषी नहीं हूं.’

गौरतलब है कि अदालत ने दो मई को गांधी को आदेश दिया था कि वह मंगलवार को पेश होकर 2014 में आरएसएस कार्यकर्ता राजेश कुंते की ओर से दायर मानहानि मामले में अपना बयान दर्ज कराएं.

राहुल गांधी ने एक चुनावी सभा में आरोप लगाया था कि महात्मा गांधी की हत्या के पीछे आरएसएस का हाथ था. इसके बाद कुंते ने उनके खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराया था.

अब इस मामले की अगली सुनवाई 10 अगस्त को होगी. भिवंडी कोर्ट ने राहुल गांधी पर धारा 499 और 500 के तहत आरोप तय किए हैं.

दूसरी ओर, आरएसएस के स्थानीय कार्यकर्ता राजेश कुंते ने आरोप लगाया है कि राहुल गांधी को कोर्ट में स्पेशल ट्रीटमेंट दिया गया. उन्होंने कहा कि मैंने शिकायत दर्ज की थी मगर मुझे ही कोर्ट के अंदर आसानी से नहीं जाने दिया गया मगर राहुल गांधी के साथ आए लोग आसानी से कोर्ट के अंदर चले गए.

आरोप तय होने के बाद कोर्ट से बाहर निकलकर राहुल गांधी ने मीडिया से कहा, ‘मेरी विचारधारा की लड़ाई है और मैं इनके खिलाफ लडूंगा… और हम जीतेंगे.’

उन्होंने कहा, ‘हमारी जंग प्रधानमंत्री की नीतियों के खिलाफ है. किसान हताश हैं और प्रधानमंत्री युवकों के रोजगार के बारे में बातें नहीं करते. यह सरकार सिर्फ रईसों के लिए है.’

राहुल गांधी ने मोदी के रेडियो प्रोग्राम ‘मन की बात’ पर चुटकी ली और कहा कि प्रधानमंत्री कभी युवकों को रोजगार देने या किसानों के बचाव जैसी ‘काम की बात’ नहीं करते. गांधी ने कहा, ‘उन्हें (भाजपा और आरएसएस को) मेरे खिलाफ जितना मन हो मुकदमे करने दें. हमारी विचारधारा की लड़ाई है. हम यह लड़ेंगे और जीतेंगे.’

कांग्रेस अध्यक्ष मंगलवार को महाराष्ट्र के दो दिन के दौरे पर मुंबई पहुंचे. वह संभवत: पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे और बृहन्मुंबई नगरपालिका के अपने पार्षदों से बातचीत करेंगे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments