भारत

जम्मू कश्मीर: एयरटेल, रिलायंस जियो के ख़िलाफ़ सड़क को नुकसान पहुंचाने का केस दर्ज

किश्तवाड़ ज़िले में सड़क का एक हिस्सा सेना का वैकल्पिक मार्ग है. पुलिस ने छह लोगों को गिरफ़्तार किया है. पुलिस ने बताया कि एनएच 244 मार्ग के 64 किमी. हिस्से को इस तरह तबाह कर दिया कि वह सड़क की बजाय पानी की नहर प्रतीत हो रही है.

Jio Airtel

जम्मू: जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में अनधिकृत खुदाई कर 62 किलोमीटर लंबी सड़क को नुकसान पहुंचाने के मामले में दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल और रिलायंस जियो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

पुलिस ने बताया कि इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल और रिलायंस जियो के खिलाफ छतरू से सिन्थान टॉप के बीच 62 किलोमीटर लंबी सड़क पर ऑप्टिकल फाइबर डालने के लिए अनधिकृत खुदाई कर उसे नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज किया गया है.

राष्ट्रीय राजमार्ग और बुनियादी ढांचा विकास निगम (एनएचआईडीसीएल) की शिकायत के बाद पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की.

मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए एयरटेल के प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी ने सड़क पर भूस्खलन के समय मामूली मरम्मत के काम के अलावा केबल डालने की कोई नई गतिविधि शुरू नहीं की है.

उन्होंने कहा, ‘यह रिकॉर्ड में है कि पिछले साढ़े तीन साल में, मामूली मरम्मत के अलावा अन्य कोई नया कार्य नहीं किया गया.’

उन्होंने बताया कि आरपीसी की धारा 431, 336, 427 के अलावा ‘सार्वजनिक संपत्ति नुकसान रोकथाम अधिनियम’ की धारा 3 के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

पुलिस के अनुसार, इन कंपनियों के प्रबंधन ने बिना किसी अनुमति के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन कर एनएच 244 मार्ग को इस तरह तबाह कर दिया कि वह एक सड़क की बजाय पानी की नहर प्रतीत हो रही है.

पुलिस ने बताया कि बहुत सारी जगहों पर लोगों ने क्षतिग्रस्त सड़क से पानी बहाने का काम शुरू कर दिया है.

पुलिस ने बताया कि बतोते से सिनथान के बीच की सड़क का इस्तेमाल संघर्षग्रस्त घाटी में सेना के वैकल्पिक मार्ग के रूप में किया जाता है. इस सेना के इस रूट को क्षतिग्रस्त करने की पीछे के षड्यंत्र की जांच कर रही है.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अबरार चौधरी ने बताया कि मामले की जांच जारी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments