राजनीति

महिलाएं बांझ रहें लेकिन ऐसे बच्चे न पैदा करें जिसमें संस्कार न हो: भाजपा विधायक

भाजपा विधायक पन्नालाल शाक्य ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ महिलाएं इस तरह के नेताओं को जन्म देती हैं जो समाज में विकृति पैदा करते हैं.

भाजपा विधायक पन्नालाल शाक्य. फोटो साभार: फेसबुक

भाजपा विधायक पन्नालाल शाक्य. फोटो साभार: फेसबुक

मध्य प्रदेश से भाजपा विधायक पन्नालाल शाक्य का एक और विवादित बयान सामने आया है. शाक्य ने गुना में आयोजित एक रैली के दौरान कांग्रेस के नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसे कुसंस्कारी और समाज में विकृति पैदा करने वाले बच्चों को जन्म देने से तो अच्छा है कि महिलाएं बांझ रहें.

पन्नालाल शाक्य मध्य प्रदेश के गुना से विधायक हैं. बुधवार को एक रैली के दौरान कहा, ‘कांग्रेस गरीबी हटाओ के नारे के साथ आई, मगर उसने गरीब को ही हटा दिया.’

उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ महिलाएं इस तरह के नेताओं को पैदा करती हैं. इससे अच्छा है कि महिलाएं बांझ रहें, मगर ऐसे बच्चे पैदा न करें जो न तो संस्कारी हों और समाज में विकृति भी पैदा करते हों.

उन्होंने कहा कि महिलाओं को कौशल्या से प्रेरणा लेनी चाहिए जिन्होंने प्रभु राम को जन्म दिया.

दैनिक भास्कर की ख़बर के अनुसार, उन्होंने एक दोहा पढ़ा. फिर उसका अर्थ बताते हुए कहा कि माता-बहन ऐसे पुत्र-पुत्रियों को जन्म न दें, जो समाज में विकृति और दुर्गुणों का संचार करते हों. इससे तो अच्छा बांझ ही रहें. विधायक पन्नालाल शाक्य मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के मौके पर बोल रहे थे.

कुछ महीने पहले उन्होंने कहा था कि यदि लड़कियां बॉयफ्रेंड बनाना बंद कर दें, तो उन पर अत्याचार नहीं होंगे. शाक्य ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर भी टिप्पणी करते हुए कहा था कि यह विदेशी परंपरा है. हमारे भारतीय दर्शन में महिला का बहुत सम्मान होता है और महिला दिवस हम एक वर्ष में चार बार मनाते हैं. चार बार उनकी पूजा करते हैं.

इससे पहले पन्नालाल शाक्य ने क्रिकेटर विराट कोहली और अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के इटली में शादी करने पर उनकी देशभक्ति पर सवाल उठाया है और कहा कि दोनों कोहली एवं अनुष्का को भारत में ही किसी स्थान को विवाह संस्कार के लिए चुनना चाहिए था.

शाक्य ने कहा था कि विराट ने पैसा भारत में कमाया, लेकिन विवाह संस्कार करवाने के लिए उन्हें हिंदुस्तान में कहीं जगह नहीं मिली. क्या हिंदुस्तान इतना अछूत है? भारत की भूमि का विराट के लिए कोई मान नहीं है. इससे स्पष्ट होता है कि वह राष्ट्रभक्त नहीं है.

Comments