भारत

बिहार के पूर्णिया में डायन होने के आरोप में परिजनों ने महिला की पीट-पीट कर हत्या की

मृतक की बेटी का कहना है कि उसके चाचा कुछ समय से बीमार थे. उनकी मौत हो जाने के बाद उनके बेटों ने डायन होने और जादू-टोने का आरोप लगाकर पेड़ से बांधकर उनकी पिटाई की जिससे उनकी मौत हो गई.

पूर्णिया (फोटो: गूगल मैप)

पूर्णिया (फोटो: गूगल मैप)

पूर्णिया: बिहार के पूर्णिया जिले में एक महिला पर डायन होने का आरोप लगाते हुए उसके ही परिवार के लोगों ने उसे पीट-पीट कर मार डाला.

यह घटना जिले के मीरगंज थाना क्षेत्र के तहत आमनाह बांस बिट्टा गांव में हुई.

धमदाहा अनुमंडल पुलिस अधिकारी प्रेम राज कुमार ने बताया कि मृतक महिला का नाम पार्वती मुर्मू (40) है. वह संजय मुर्मू की पत्नी थी.

मृतक महिला की बेटी अनीता मुर्मू ने बताया कि उनके बड़े चाचा रामू मुर्मू पिछले डेढ़ साल से बीमार थे और गत सोमवार की शाम उनकी मौत हो गई.

अनीता ने बताया कि जादू-टोना करने का आरोप लगाते हुए उनके चचेरे भाइयों- निर्मल मुर्मू, परमेश्वर मुर्मू और किशन मुर्मू समेत परिवार के अन्य लोगों ने उनकी मां को एक पेड़ से बांधकर बुरी तरह से पीटा था. इलाज के लिए उन्हें जिला सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई.

न्यूज़ 18 की ख़बर के अनुसार, पिटाई के दौरान बच्चियां अपनी मां को बचाने के लिए गुहार लगाती रहीं, लेकिन किसी ने उनकी नहीं सुनी. सरपंच, वार्ड सदस्य को भी फोन किया लेकिन किसी ने मदद नहीं की. जब पार्वती देवी बेहोश हो गई तब उसे सदर अस्पताल लाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका

मृतका की बेटी पिंकी और अनीता ने आरोप लगाया है कि हत्या करने वाले लोग धमकी दे रहे हैं कि केस वापस ले लो नहीं तो जान से मार देंगे. घटना की सूचना मिलते ही मीरगंज थाना पुलिस मौके पर पहंची.

मीरगंज थाना प्रभारी मेनका कुमारी ने बताया कि मामले में एक महिला सोरम्भा देवी को गिरफ्तार किया गया है. वहीं 6 नामजद और 10 अज्ञात लोगों के खिलाफ डायन कहकर पिटाई और हत्या का केस दर्ज किया गया है. पुलिस ने बताया कि इस मामले में छह आरोपी फरार हैं, जिनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है.

(समाचार एजेंसी भाषा इनपुट के साथ)