भारत

क़र्ज़ देने के लिए बैंक प्रबंधक ने किसान की पत्नी से यौन संबंध बनाने की मांग की

महाराष्ट्र के अमरावती ज़िले में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की एक शाखा के बैंक प्रबंधक ने किसान की क़र्ज़ प्रक्रिया आगे बढ़ाने के लिए यह मांग रखी. पुलिस ने उसे और उसके सहयोगी चपरासी को गिरफ़्तार कर लिया है.

CBI PTI Representational

अमरावती: महाराष्ट्र के अमरावती जिले में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के प्रबंधक और चपरासी को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है. दरअसल, प्रबंधक ने फसल कर्ज़ मांगने वाले किसान की पत्नी के साथ कथित शारीरिक संबंध बनाने का दबाव बनाया था, जिसके बाद पुलिस में शिकायत के बाद दोनों को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के अनुसार, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की दटाला शाखा के बैंक प्रबंधक राजेश हाईवेस ने कर्ज़ प्रक्रिया आगे बढ़ाने के लिए किसान की बीवी का संपर्क विवरण मांगा जिसके बाद उन्होंने उसे फ़ोन कर के कथित तौर पर अश्लील भाषा का इस्तेमाल किया और यौन संबंध की मांग की.

पुलिस उपाधीक्षक गिरीश बोबडे ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, ‘बैंक अधिकारियों ने हमें सूचित किया है कि उन्होंने एफआईआर के आधार पर दोनों कर्मचारियों को निलंबित कर दिया है.’

बोबडे ने कहा, ‘किसान पति-पत्नी ने दावा किया है कि राजेश ने फ़ोन पर यौन संबंध बनाने की बात कही और 18 जून को हुई इस बातचीत को किसान जोड़े द्वारा रिकॉर्ड भी किया गया है.’

बाद में प्रबंधक ने अपने चपरासी को संदेश देने के लिए किसान के घर भेजा और महिला से उस पर अमल करने के लिए कहा.

बोबडे ने बताया, ‘चपरासी चव्हाण कथित तौर पर प्रबंधक के एक संदेश के साथ किसान के निवास पर गया और किसान की पत्नी को कहा कि वो प्रबंधक को फ़ोन करे.’

डीएसपी बोबडे ने बताया कि प्रबंधक और चपरासी के ख़िलाफ़ भारतीय दंड सहिंता की संबंधित धाराओं के अलावा एससी/एसटी अत्याचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज़ कर लिया गया है.

उन्होंने आगे बताया, ‘हम सोमवार को बैंक खुलते ही किसान द्वारा कर्ज़ के लिए दी गई अर्जी की जांच करेंगे और फ़ोन रिकॉर्डिंग को भी जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजेंगे.’

Comments