नॉर्थ ईस्ट

असम: नैतिकता के नाम पर युगल को रात भर पीटा, महिला का सिर मुंड़ाया

असम के नगांव ज़िले का मामला. पुलिस के अनुसार, नाजायज संबंधों के शक में ग्रामीणों ने युवक युवती से बदसलूकी की. इससे पहले गोलपाड़ा ज़िले में बाइक से जा रहे युगल के साथ मारपीट की गई थी.

(फोटो: गूगल मैप)

(फोटो: गूगल मैप)

गुवाहाटी: असम के नगांव जिले में नैतिकता के कथित ठेकेदारों ने एक जोड़े की कथित तौर पर रात भर पिटाई की और महिला का सिर भी मुंड़ा दिया. पुलिस ने बताया कि गांववालों ने नजायज प्रेम संबंधों के चलते दोनों के साथ बदसलूकी की.

पुलिस ने बताया कि यह घटना झूमुरमुर गांव में हुई और गंभीर रूप से घायल जोड़े को पुलिस के हवाले कर दिया गया.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों को पहले एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया और बाद में भोगेश्वरी फुकनानी सिविल अस्पताल रेफर कर दिया गया.

इसी महीने में यह तीसरी घटना है जब नागरिकों ने अपने हाथों में कानून लिया है.

नगांव जिला के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) रिपुल दास ने कहा, ‘सुबह कुछ लोगों ने युगल को पीटने के बारे में सूचित किया. हमारी टीम मौके पर पहुंची. वे दोनों बुरी तरह घायल थे, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया.’

रिपुल दास ने बताया कि मामले की प्राथमिक जांच के बाद मामला दर्ज किया जाएगा.

स्थानीय चौकी के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह घटना तब हुई जब पड़ोसी तुबुकी गांव का एक आदमी रात को झूमुरमुर गांव की महिला के घर आया था.

पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि वे एक अवैध रिश्ते में हैं. आदमी ने भागने की कोशिश की लेकिन ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया. फिर उन दोनों को पीटा.’

उन्होंने आगे बताया, ‘महिला का सिर गांव की अन्य महिलाओं ने मुंड दिया. उनके कपड़े फाड़ दिए गए और उन्हें रात भर यातना दी गई. ग्रामीणों ने सुबह पुलिस को सूचित किया.’

पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि दोनों विवाहित व्यक्ति हैं और अपने-अपने पति/पत्नी को धोखा दे रहे थे.’

इससे पहले 19 जून को गोलपाड़ा ज़िले पुखुरपुर गांव के पास बाइक पर जा रहे एक जोड़े की भीड़ ने पिटाई की थी, क्योंकि ग्रामीणों का कहना था कि उन दोनों की शादी नहीं हुई है इसलिए इस तरह घूमना गलत है.

सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो फैलने के बाद दो व्यक्तियों की गिरफ्तारी हुई है.

रोंगजुली इलाके के पुखुरपुर गांव में 19 जून को घात लगाकर बैठे लोगों ने एक युगल को पकड़ा और उनके साथ मारपीट की थी. दोनों की उम्र 20 साल के आसपास है. जिस व्यक्ति की पिटाई हुई है, उसके भाई ने दावा किया था कि ग्रामीणों ने बाद में बैठक की और इस युगल को शादी करने के लिए बाध्य किया.

असम के पुलिस महानिदेशक कुलधर सैकिया ने कहा था कि वैसे तो कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है लेकिन पुलिस ने इस घटना का स्वत: संज्ञान लिया है और जांच चल रही है.

वहीं बीते आठ जून को राज्य के कार्बी आंगलांग ज़िले के डोकमोका थाना क्षेत्र के तहत आने वाले कांगथीलांगसो वाटर फाल्स घूमने गए दो दोस्तों नीलोत्पल दास (29) और अभिजीत नाथ (30) की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी.

भीड़ ने बच्चा चोर होने के शक में उन पर हमला किया था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments