भारत

छत्तीसगढ़: भाजपा सांसद के बेटे का पत्रकार और उसके परिवार पर हमला, ख़बर छापने से था नाराज़

सरगुजा ज़िले के जमगला गांव निवासी पत्रकार राजेश गुप्ता ने गांव में नल-जल योजना के तहत हो रहे काम पर ख़बर की थी जिससे नाराज़ भाजपा सांसद कमलभान सिंह के बेटे देवेंद्र सिंह ने उनके घर पर हमला कर दिया.

सरगुजा से भाजपा सांसद कमलनाथ सिंह मराबी (फोटो साभार: फेसबुक)

सरगुजा से भाजपा सांसद कमलनाथ सिंह मराबी (फोटो साभार: फेसबुक)

रायपुर: छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में एक पत्रकार और उसके माता-पिता से भाजपा सांसद के पुत्र ने मारपीट की है. खबरों के मुताबिक पत्रकार ने अपने अखबार के लिए एक सरकारी योजना के संबंध में खबर लिखी थी, उसी से नाराज होकर सांसद पुत्र ने उसके घर में घुसकर उसे और उसके बुजुर्ग माता-पिता को बेरहमी से पीटा है.

मारपीट करने के मामले में पुलिस ने भाजपा सांसद के पुत्र के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है.

सरगुजा जिले के लखनपुर थानाक्षेत्र अंतर्गत जमगला गांव निवासी राजेश प्रसाद गुप्ता हिंदी दैनिक समाचार पत्र हरिभूमि में बतौर संवाददाता काम करते हैं. राजेश ने गांव में नल जल योजना के तहत हो रहे काम को लेकर अपने समाचार पत्र में खबर भेजी थी. इस खबर को हरिभूमि के बिलासपुर संस्करण में सोमवार को छापा गया था.

पत्रिका की रिपोर्ट के अनुसार, खबर छपने से नाराज सरगुजा के भाजपा सांसद कमलभान सिंह मरावी के बेटे देवेंद्र सिंह मरावी सोमवार दोपहर राजेश के घर में घुस गए. राजेश पर हमला किया और बीच-बचाव के लिए आए उसके बुजुर्ग माता-पिता को भी पुलिस के बेल्ट से बेरहमी से पीटा.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि खबर छपने के बाद नाराज देवेंद्र सिंह और उसके साथी ने पत्रकार राजेश के घर पर धावा बोल दिया. जब वह पत्रकार की पिटाई कर रहे थे तब उसके माता-पिता (जानकी बाई और दुहन दास) बीच बचाव करने लगे. इस दौरान देवेंद्र और उसके साथी शिवब्रत सिंह ने राजेश के माता-पिता की भी पिटाई कर दी. इस घटना में राजेश की मां जानकी बाई के सिर में गंभीर चोटें आई हैं.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना को अंजाम देने के बाद देवेंद्र और उसके साथी वहां से फरार हो गए. बाद में जब राजेश और उसके माता-पिता ने घटना की जानकारी पुलिस को दी, तब देवेंद्र और उसके साथी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया.

मामले में लखनपुर पुलिस ने सांसद के बेटे और उसके सहयोगी पर धारा 294, 506 और 323 के तहत मामला दर्ज कर लिया है.

दैनिक भास्कर के मुताबिक, लाठी-डंडों और बेल्ट से आरोपियों द्वारा पत्रकार और उसके माता-पिता को पीटे जाने का शोर सुनकर जब ग्रामीणों की भीड़ जुटी तो हमलावर गाड़ी में बैठकर फरार हो गए.

पुलिस के मुताबिक, घटना के बाद से देवेंद्र और उसका सहयोगी गांव में नहीं है. उनकी तलाश जारी है.

पूरे मामले पर सांसद कमलभान ने पत्रिका को कहा, ‘मेरे पुत्र ने गलत किया है. मारपीट करने वाला कोई भी हो फिर वह सांसद का या मंत्री का बेटा हो, उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.’

हरिभूमि के मुताबिक, देवेंद्र सिंह लखनपुर जनपद पंचायत का अध्यक्ष भी है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments