भारत

मध्य प्रदेश: सिंगरौली में बच्चा चोर होने के शक में भीड़ ने बेक़सूर युवक को पीटकर अधमरा किया

पीड़ित युवक नाच-गाने का काम करता है. घटना के समय वह महिला के वेश में एक कार्यक्रम से लौट रहा था. उसका पहनावा देख लोगों ने बच्चा चोर समझकर पीटना शुरू कर दिया. पुलिस ने युवक को बच्चा चोर नहीं माना है.

Singrauli Map

सिंगरौली: मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में बच्चा चोर गिरोह का सदस्य समझ के माड़ा थाना क्षेत्र में ग्रामीणों ने बहरूपिये का स्वांग करने वाले एक युवक की बेहरमी से पिटाई कर दी.

दरअसल, जिले में बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने के संदेश सोशल मीडिया में वायरल होने से ग्रामीण बेहद डरे-सहमे थे और आक्रोश में आकर उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया.

पुलिस अधीक्षक विनीत जैन ने बताया कि मंगलवार की शाम माड़ा थाना क्षेत्र के राजमिलान में साड़ी पहने हुए जिस युवक को बच्चा चोर गिरोह का सदस्य समझ कर बुरी तरह से पीटा है, उस युवक का बच्चा चोर गिरोह से कोई लेना देना नहीं है.

उन्होंने बताया कि पीड़ित युवक की पहचान रामभरोसे के तौर पर हुई है और वह सीधी जिले के ग्राम बड़वानी मझौली का रहने वाला है.

मंगलवार को वह माड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम ढेका में किसी के यहां साड़ी पहनकर नाचने गाने जा रहा था, जिसे रास्ते में लोगों ने बच्चा चोर गिरोह का सदस्य समझ कर बुरी तरह पीट दिया.

घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस वहां पहुची और युवक को भीड़ के चंगुल से बचाया.

एसपी ने बताया कि जिला क्षेत्र में किसी तरह का कोई बच्चा चोर गिरोह नहीं है, केवल वाट्सऐप, फेसबुक व अन्य माध्यम से वायरल हो रहे मैसेज से लोग डरे सहमे हैं.

उन्होंने कहा कि युवक के साथ मारपीट करने वाले और वीडियो को वाट्सऐप व फेसबुक पर वायरल करने वालों की पहचान कर सभी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

जैन ने जिले के लोगों से अपील की है कि वाट्सऐप फेसबुक पर वायरल हो रहा बच्चा चोर गिरोह का मैसेज केवल अफवाह है और इस तरह का कोई गिरोह जिले में सक्रिय नही है. फिर भी पुलिस संदिग्धों पर नजर रख रही है.

पत्रिका के मुताबिक, मंगलवार की शाम रामभरोसे नामदेव अपने कुछ साथियों के साथ माड़ा थाना क्षेत्र के ढेंका गांव में नाचने गया था. वह लड़कियों के कपड़े पहने ही कार्यक्रम के बाद घर लौट रहा था. वह जैसे ही ऑटो में बैठा, लोगों को उसका पहनावा देखकर शक हुआ.

इस बीच, कुछ युवकों ने बच्चा चोर चिल्लाकर अफवाह फैलाई. जिसके चलते बाजार में मौजूद सैकड़ों की भीड़ रामभरोसे पर टूट पड़ी और लात-घूंसों से उसे पीटना शुरु कर दिया.

इस बीच किसी व्यक्ति की सूचना पर पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और घायल युवक को थाने ले गई. रामभरोसे के साथियों को जब घटना का पता चला तो वे भी थाने पहुंचे और बताया कि भीड़ का शिकार बना युवक नाच-गाने का कार्य करता है.

घायल को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसका उपचार जारी है. इस संबंध में एक वीडियो भी वायरल हुआ है.

देश के कई राज्यों में फैली अफवाह

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश समेत देश के कई राज्यों में बच्चा चोर गैंग के सक्रिय होने की सोशल मीडिया पर अफवाह फैली हुई है. 21 जून को जामनगर में ऐसी ही अफवाह के चलते तीन लोगों को भीड़ ने जमकर पीटा था. इसके अलावा साबरकांठा में भी एक दिव्यांग लड़के को बच्चा चोर समझ कर लोगों ने इतना पीटा कि वो अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच अपनी सांसें गिन रहा है.

गुजरात की तरह झारखंड के अलग-अलग हिस्सों में बीते कई सप्ताह से बच्चा चोर की अफवाह जोर पकड़ चुकी है. यह अफवाह खास कर जमशेदपुर-सरायकेला और धनबाद-बोकारो में फैली है. इसी अफवाह के कारण पिछले महीने तक राज्य में 18 लोगों की भीड़ ने हत्या कर दी.

इसी तरह हाल ही में पश्चिम बंगाल में बच्चा चोर होने के संदेह में मालदा जिले में व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी. इसके अलावा पिछले महीने असम के कार्बी आंगलांग जिले में बच्चा चुराने के शक में संगीतकार और उसके दोस्त की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी.

गुजरात से भी बच्चा चोरी की घटनाएं सामने आई हैं.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments