कैंपस

सीबीआई हार सकती है लेकिन मैं अपनी लड़ाई जारी रखूंगी: नजीब की मां

जेएनयू छात्र नजीब की मां फातिमा नफीस ने कहा कि उन्हें न्यायपालिका पर भरोसा है और उन्हें न्याय मिलेगा. ईश्वर उन लोगों को सजा देगा जिन्होंने नजीब को उसकी मां से छीन लिया.

नजीब की मां फातिमा नफीस बेटे की तस्वीर लिए हुए (फोटो: पीटीआई)

नजीब की मां फातिमा नफीस बेटे की तस्वीर लिए हुए (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: हाल में मीडिया रिपोर्ट्स में ये बात सामने आई है कि सीबीआई जेएनयू छात्र नजीब अहमद के गुमशुदगी के मामले में क्लोजर रिपोर्ट सौंप सकती है. हालांकि नजीब की मां फातिमा नफीस का कहना है कि वे हार नहीं मानेंगी और अगर सीबीआई क्लोजर रिपोर्ट सौंपती है तो वे इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगीं. बता दें कि साल 2016 में अक्टूबर महीने में एबीवीपी के कुछ छात्रों से लड़ाई होने के नजीब अहमद के गायब होने की बात आई थी.

इसे लेकर जेएनयू समेत दिल्ली के कई जगहों पर विरोध प्रदर्शन हुए और जांच की मांग की गई. इसके बाद ये मामला सीबीआई के पास गया. हालांकि अभी तक सीबीआई नजीब को नहीं ढूंढ पाई है.

नजीब की मां ने कहा, ‘हम सीबीआई की जांच से सहमत नहीं हैं. सीबीआई क्लोजर रिपोर्ट सौंपना चाहती है लेकिन मैं इस मामले को बंद नहीं होने दूंगी और अगर जरूरत पड़ी तो मैं सुप्रीम कोर्ट जाउंगी. मैं न्यायलय से गुजारिश करूंगी वे नजीब को ढूंढने के एक रिटायर्ड जजों की स्वतंत्र कमेटी गठित करने का आदेश दें. मैं अपनी लड़ाई जारी रखूंगी.’

शुक्रवार की सुबह नजीब मामले को लेकर कोर्ट में सुनवाई थी जिसके लिए फातिमा नफीस बदायूं से चलकर दिल्ली आईं थीं. उन्होंने कहा, ‘जब एक साल पहले सीबीआई ने इस केस को अपने हाथ में लिया था तो उन्होंने वादा किया था कि वे मेरे बेटे को सही-सलामत वापस लाएंगे. लेकिन एक साल जांच करने के बाद भी सीबीआई पास कोई जवाब नहीं है कि आखिर नजीब कहां है.’

नफीस की मां ने यह भी कहा, ‘हमने सीबीआई को नौ ऐसे लोगों के नाम दिए थे जिन्होंने नजीब को प्रताणित किया था. अगर एजेंसी ने सख्ती से पूछताछ की होती तो कुछ पता चलता. आज तक किसी मंत्री ने हमारे समर्थन में एक ट्वीट भी नहीं किया. मुझे न्यायपालिका पर भरोसा है. मुझे न्याय मिलेगा. इस देश में अभी भी कानून और मानवता ज़िदा है. ईश्वर उन लोगों को सजा देगा जिन्होंने नजीब को उसकी मां से छीन लिया.’

नजीब लगभग डेढ़ साल से भी ज्यादा समय से गायब है. हालांकि मां फातिमा को पूरा विश्वास है कि उनका बेटा ज़िदा है. उन्होंने कहा, ‘मेरा दिल कहता है कि मेरा बेटा जिंदा है लेकिन किसी ने उसको कैद कर के रखा है. मुझे नहीं पता है कि वो कब वापस आएगा लेकिन अपने बेटे को वापस पाने के लिए मैं हरसंभव कोशिश करती रहूंगी.’

फातिमा नफीस ने एक बार फिर कहा कि अगर उनका बेटा वापस आ जाता है तो वे सारे मुकदमें वापस ले लेंगी. उन्होंने कहा कि मैं पहले दिन से ये बात कह रही हूं कि अगर मेरा बेटा वापस आ जाता है तो मैं सारे केस वापस ले लूंगी.