भारत

राजस्थान: मुस्लिम युवती से कथित प्रेम संबंध के चलते दलित युवक की पीट-पीटकर हत्या

बाड़मेर के रामसर में 20 जुलाई को 22 वर्षीय दलित युवक की पीट-पीट कर हत्या के मामले में गिरफ़्तार दो आरोपियों को 7 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया है. पुलिस का कहना है कि जांच जारी है.

Barmer Dalit Guy News18

मृतक खेताराम भील (फोटो साभार: न्यूज़ 18)

बाड़मेर: राजस्थान के सीमावर्ती बाड़मेर जिले के रामसर थानान्‍तर्गत के मेकरनवाला गांवएक दलित युवक की पीट-पीट कर हत्या करने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि प्रेम संबंध के चलते उसकी हत्या हुई है.

बीती 20 जुलाई को एक मुस्लिम महिला से कथित प्रेम संबंध के चलते एक दलित युवक को एक समूह ने बुरी तरह पीटा, जिसके चलते उसकी मौत हो गयी.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मंगलवार को इन दो आरोपियों को स्थानीय अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्‍हें सात दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है.

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक जिले के भिंडे का पार गांव के खेताराम भील को मुस्लिम युवती के साथ कथित रूप से प्रेम संबंध होने के चलते मारा गया.

इस अख़बार के अनुसार तब चौहटन क्षेत्राधिकारी सुरेन्‍द्र कुमार ने बताया था कि आरोपियों ने खेताराम के हाथ-पांव बांधकर उसे पीटा था. उसका शव उस जगह से 500 मीटर दूर मिला, जहां उसे पीटा गया था. जगह देखकर लग रहा था कि उसने भागने की कोशिश की थी, लेकिन नाकाम रहा और वहीं दम तोड़ दिया.

बाड़मेर में अतिरिक्‍त पुलिस अधीक्षक रामेश्‍वरलाल मेघवाल ने बताया कि जांच में सामने आ रहे तथ्य घटना के पीछे प्रेम प्रंसग की तरफ इशारा कर रहे हैं.

हालांकि इस अख़बार की खबर के अनुसार भील के भाई गोर्धन राम ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि उन्होंने मुस्लिम महिला आसियत से एक जमीन का टुकड़ा किराये पर लिया था, जिस पर वे ईंटें बनाने का काम करते थे. बीते कुछ समय से ज़मीन मालिकों से कुछ विवाद चल रहा था.

गोर्धन ने बताया कि शुक्रवार 20 जुलाई की रात सद्दाम खान और हयात खान उनके घर आये और खेताराम को खेती के किसी काम के लिए साथ चलने को कहा. उनका आरोप है जब उनका भाई खेत पर पहुंचा तो अमर खान, अकबर खान, अनवर खान, रहीम खान, मुहीब खान, पठाई खान और शौकत खान वहां मौजूद थे और उन सभी ने उसे पीटना शुरू कर दिया. तब पास के खेत में काम कर रहे दो किसानों ने उनके भाई की चीखें सुनी और उसे बचाने गए, लेकिन आरोपियों ने उन पर भी हमला किया और वहां से भाग गए.

गोर्धन ने अपनी शिकायत में यह भी कहा है कि अगली सुबह शनिवार को सद्दाम खान और हयात खान उनके घर पहुंचे और कहा कि उन्होंने उसके भाई खेताराम को मार दिया है और उसका शव खेतों में पड़ा है.

चौहटन क्षेत्राधिकारी सुरेन्‍द्र कुमार ने बताया कि घटना के दिन ही पीड़ित परिवार की रिपोर्ट के आधार पर संदिग्‍धों को हिरासत में लिया गया था. मामले की जांच के दौरान सोमवार को दो आरोपियों पठाई खान (28) और अनवर खान (40) को गिरफ्तार किया गया.

दोनों आरोपियों को मंगलवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें सात दिन की पुलिस रिमांड पर सौंपा गया है. कुमार ने बताया कि प्रारंभिक पुलिस जांच के दौरान यह सुनियोजित हत्‍या का मामला लग रहा है.

उन्‍होने यह भी बताया कि पुलिस शेष आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी का प्रयास कर रही है. उन्होनें बताया कि जांच में सामने आया है कि घटना से पहले आरोपियों के बीच फोन पर बातचीत हुई थी. पुलिस कॉल डिटेल का इंतजार कर रही है, जिसके आधार पर पूरे मामले का खुलासा हो सकेगा.

इस बीच पुलिस ने इस मामले के मुख्‍य आरोपी अमर खान की तलाश तेज कर दी है. बताया जा रहा है कि दलित युवक के साथ मारपीट करने के बाद अमर खान ने उसका गला घोंटा था.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)