भारत

जम्मू कश्मीर: पूर्व मुख्यमंत्री फ़ारूक़ अब्दुल्ला के घर में जबरन घुसे व्यक्ति को गोली मारी

मारे गए युवक के पिता ने कहा जब उसने सुरक्षा घेरा तोड़ा तो उसे गोली क्यों मारी गई गिरफ़्तार क्यों नहीं किया गया. जम्मू ज़िले के भटिंडी स्थित फ़ारूक़ अब्दुल्ला के घर में एसयूवी से घुसे शख्स ने तोड़-फोड़ भी की.

Abdullah Home ANI

बगीचे में गाड़ी से उतरने के बाद यह शख्स घर के अंदर दाखिल हुआ (फोटो साभार: एएनआई)

जम्मू: नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष एवं जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फ़ारूक़ अब्दुल्ला के घर के मुख्य द्वार में तेज रफ्तार कार घुसाने वाले व्यक्ति को गोली मार दी गई. घटना शनिवार सुबह जम्मू ज़िले के भटिंडी में हुई.

पुलिस ने बताया कि पुंछ जिले के मेंढर के निवासी ने अपनी कार तेज गति से फ़ारूक़ के निवास के मुख्य द्वार से टकरा दी थी.

उन्होंने बताया कि वह अपनी कार से उतरकर अब्दुल्ला के घर में तोड़फोड़ मचाने की कोशिश कर रहा था. इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने उसे गोली मार दी.

पुलिस ने बताया कि व्यक्ति की पहचान पुंछ के मुर्फस शाह के तौर पर हुई है. उसके पिता जम्मू के बन-तालाब में बंदूक की फैक्टरी चलाते हैं.

फ़ारूक़ श्रीनगर से लोकसभा सांसद हैं और फिलहाल मानसून सत्र के लिए नई दिल्ली में हैं. फ़ारूक़ को जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है और इस घटना को उनकी सुरक्षा में बड़ी चूक माना जा रहा है.

पुलिस के अनुसार इस व्यक्ति ने पहले कार को मुख्य द्वार में टक्कर मार दी, फिर बगीचे में रुका और गाड़ी से उतरकर तोड़-फोड़ मचाते हुए घर में घुसने की कोशिश की.

जम्मू एसएसपी विवेक गुप्ता ने बताया, ‘पहले यह व्यक्ति मेन गेट को टक्कर मारते हुए अंदर पहुंचा, यहां उसकी एक ड्यूटी ऑफिसर से झड़प हुई, जिसमें ऑफिसर घायल हो गए. जिसके बाद ये व्यक्ति घर में घुसा और वहां तोड़-फोड़ की. इसी दौरान उसे गोली मार दी गयी.’

पुलिस ने बताया कि उसे सीढ़ियों के पास गोली मारी गई. इन सीढ़ियों से घर के शयनकक्षों तक पहुंचा जा सकता है.

जम्मू जोन ने आईजी एसडी सिंह जामवाल ने बताया कि एक एसयूवी में आये इस शख्स ने वीआईपी गेट से घुसने की कोशिश की और उसके पास हथियार नहीं थे. पुलिस की जांच जारी है.

वहीं इस शख्स के पिता ने कहा है कि अगर उनके बेटे ने सुरक्षा घेरे को तोड़ा तो उसे गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘वो शुक्रवार रात मेरे साथ था. वो रोज़ जिम जाया करता था, आज भी वहीं जाने के लिए निकला था. मैं जानना चाहता हूं कि उसे क्यों मारा गया. जब उसने गेट की सिक्योरिटी को तोड़ा तब सिक्योरिटी गार्ड्स कहां थे? उन्होंने उसे गिरफ्तार क्यों नहीं किया?’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)