भारत

50 और 100 रुपये के नकली नोटों की संख्या में हुई बढ़ोतरी: रिजर्व बैंक

रिजर्व बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान वित्तीय वर्ष में 50 और 100 रुपये के नकली नोटों में पिछले साल की अपेक्षा रिकॉर्ड बढ़ोतरी देखी गई है. 50 रुपये के नोटों में 154.3 प्रतिशत, तो 100 रुपये के नोटों में क़रीब 35 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई.

Notes

नई दिल्ली/मुंबई: रिजर्व बैंक की एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि देश में केवल 500 या 200 रुपये के ही नकली नोट नहीं चल रहे हैं बल्कि 50 और 100 रुपये के नकली नोट भी बाजार में प्रचलन में हैं.

आईएएनएस की खबर के मुताबिक, रिजर्व बैंक ने बीते वर्ष 5,22,783 नकली नोट पकड़े. इसमें 63.9 फीसदी नोट विभिन्न बैंकों द्वारा पकड़े गए.

रिजर्व बैंक की इस संबंध में रिपोर्ट बताती है कि 2017-18 वित्तीय वर्ष में 50 और 100 रुपये के नकली नोटों में पिछले दो वित्तीय वर्षों की अपेक्षा रिकॉर्ड बढ़ोतरी देखी गई है.

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की 2017-18 की वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक, 50 रुपये के नकली नोटों में 154.3 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई. 2015-16 में 6453 और 2016-17 में 9222 नोटों के मुकाबले 2017-18 में 23,447 नकली नोटों के मामले सामने आए.

वहीं, आरबीआई के मुताबिक100 रुपये के नकली नोट 2017-18 में 2,39,182 सामने आए जो कि बीते वर्ष से करीब 35 प्रतिशत अधिक था. 2016-17 इनकी संख्या 1,77,195 थी. तो वहीं 2015-16 में 2,21,447 थी.

आरबीआई की ओर से कहा गया, ”2017-18 के दौरान, बैंकिंग व्यवस्था में 5,22,783 कुल नोट नकली पाए गए. जिनमें से 63.9 प्रतिशत की पहचान विभिन्न बैंकों द्वारा की गई.

इसके अलावा, कुल नकली नोटों में आरबीआई द्वारा पहचाने गए नोटों की संख्या 36.1 प्रतिशत रही, जबकि पिछले साल उसके द्वारा यह संख्या 4.1 प्रतिशत थी.

वहीं, टाइम्स नाउ के मुताबिक, 200 रुपए के जारी नए नोट की भी नकल बननी शुरू हो गई है. बैंकों ने ऐसे 79 नकली नोट पकड़े हैं.

इसी तरह नये 500 के नोट के 9,892 नकली नोट भी पकड़े गए हैं. पिछले साल इनकी संख्या महज 199 थी.

पिछले साल के मुकाबले 2000 के नकली नोटों में भी बढ़ोतरी हुई है.

साल 2016-17 में सिर्फ 638 नकली नोट पकड़े गए थे जबकि 2017-18 में इनकी संख्या बढ़कर 17,929 हो गई.

सबसे आश्चर्य की बात ये है कि 2017-18 में 2 रुपए का भी 1 नकली नोट पकड़ा गया है. वहीं 10 रुपए के 287 नकली नोट पकड़े गए. साल 2017-18 में 1 रुपए के भी 4 नकली नोट पकड़े गए.

गौरतलब है कि इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 8 नवंबर को की गई नोटबंदी की घोषणा के समय 500 और 1,000 रुपये के 15.41 लाख करोड़ रुपये के नोट चलन में थे. रिजर्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें से 15.31 लाख करोड़ रुपये के नोट बैंकों के पास वापस आ चुके हैं.

Comments