भारत

मेरठ में लव जिहाद के नाम पर युवक-युवती पर हमला, विहिप कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज

मेरठ में पुलिस द्वारा मेडिकल छात्रा की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद अब उसके मुस्लिम मित्र को गालियां देते हुए पिटाई का वीडियो वायरल हुआ है. पुलिस ने मामले में विहिप के 18 कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ नामज़द और 20 से 25 अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया है.

मुस्लिम छात्र को पुलिस के सामने पीटते विहिप के कार्यकर्ता (फोटो: ट्विटर)

मुस्लिम छात्र को पुलिस के सामने पीटते विहिप के कार्यकर्ता (फोटो: ट्विटर)

मेरठ: बीते दिनों उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक युवती के साथ सिर्फ इसलिए बदतमीजी और अभद्र भाषा का प्रयोग करने के साथ उसे पीटा गया क्योंकि वह अपने मुस्लिम मित्र से मिलने उसके घर गई थी. ये घटना मेरठ के मेडिकल थानाक्षेत्र में घटित हुई.

कथित तौर पर लव जिहाद के नाम पर विश्व हिंदू परिषद के लोगों ने मुस्लिम पुरुष के घर में जबरन घुसकर दोनों को घर से बाहर निकाला और पुलिस के हवाले कर दिया. जिस गाड़ी में युवती को पुलिस थाने ले जाया जा रहा था, उसमें उसके साथ पुलिसकर्मियों ने न सिर्फ मारपीट की बल्कि आपत्तिजनक भाषा में प्रयोग कर उसके साथ बदतमीज़ी की.

इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद एक महिला पुलिसकर्मी सहित चार पुलिसवालों को निलंबित कर दिया गया.

अब इस मामले में युवती के पुरुष मित्र के साथ मारपीट का मामला सामने आया है. इस संबंध में विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया गया है. इस घटना का वीडियो भी वायरल हुआ है.

45 सेकेंड के वीडियो में नज़र आ रहा है कि एक पुलिसकर्मी युवक से पूछताछ कर रहा है और भीड़ उन्हें घेरे हुए है. पुलिसकर्मी उससे पूछता है कि क्या करता है तो युवक बता रहा है कि पढ़ाई करता हूं.

इसके बाद भीड़ से एक व्यक्ति की आवाज़ आती है. गाली देते हुए वो कहता है कि तू पढ़ाई करता है या लव जिहाद करता है. एक-एक का मारेंगे हैं और चुन-चुन के मारेंगे हम.

भीड़ में शामिल लोग कह रहे हैं कि ये सब तीन महीने से चल रहा है. इसने यहीं पर कमरा किराये पर ले रखा है. इसके बाद वीडियो में नज़र आ रहा है कि भीड़ में शामिल लोग पुलिसकर्मी के सामने ही युवक को गालियां देते हुए पीटने लगते हैं.

वीडियो वायरल होने के बाद मेडिकल थाना पुलिस ने घटना के संबंध में विश्व हिंदू परिषद से जुड़े मनीष, बिजेंद्र राना ,योगेश सैनी, रॉबिन चौहान, भारत सिंह, मयंक त्यागी समेत 18 कार्यकर्ताओं को नामजद किया है और 20-25 अज्ञात लोगों के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है, हालांकि अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है.

बुधवार को वायरल वीडियो जागृति विहार का बताया जा रहा है. इसमें विहिप कार्यकर्ता और अन्य लोग पुलिस के सामने ही छात्र की पिटाई कर रहे हैं और छात्र पर जागृति विहार में कमरा लेकर लव जिहाद चलाने के आरोप लगा रहे हैं.

बीते 23 सितंबर को मेरठ में युवती अपने एक मुस्लिम दोस्त के घर गई थी. दोनों मेडिकल छात्र हैं. आरोप है कि इस दौरान विहिप कार्यकर्ताओं की एक भीड़ लड़के के घर में जबरन घुस गई और दोनों के साथ हाथापाई की, उसके बाद दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया गया. हमला करने वाली भीड़ ने इस मामले को ‘लव जिहाद’ का नाम दिया.

इससे पहले वायरल हुई 19 सेकेंड की वीडियो में दिखाया गया था कि यूपी 100 पुलिस की गाड़ी में मेडिकल छात्रा को पीटा गया और बेइज्जत भी किया गया. वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी ने घटना में शामिल एक महिला समेत तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर घटना की विभागीय जांच बैठा दी थी. वहीं घटना का वीडियो बनाने वाले होमगार्ड को बुधवार को बर्खास्त कर दिया गया.

(समाचार एजेंसी भाषा के इनपुट के साथ) 

Comments