राजनीति

मायावती ने कहा, राजस्थान और मध्य प्रदेश में कांग्रेस से गठबंधन नहीं

बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि दिग्विजय सिंह जैसे नेता नहीं होने दे रहे कांग्रेस-बसपा का गठबंधन. कांग्रेस पार्टी की रस्सी जल गई, मगर बल नहीं गया.

Lucknow: Bahujan Samaj Party supremo Mayawati addresses a press conference, in Lucknow, Sunday, Sept 16, 2018. (PTI Photo/Nand Kumar)(PTI9_16_2018_000063B)

बसपा प्रमुख मायावती (फाइल फोटो: पीटीआई)

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने राजस्थान और मध्य प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस समेत विपक्षी महागठबंधन की उम्मीद लगाए दलों को तगड़ा झटका दिया है. मायावती ने साफ शब्दों में ऐलान कर दिया है कि इन जगहों पर कांग्रेस के साथ कोई गठबंधन नहीं होगा.

इस दौरान मायावती ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला और गठबंधन न होने के लिए दिग्विजय सिंह को जिम्मेदार ठहराया. बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गठबंधन चाहते थे. मगर दिग्विजय सिंह और कई नेता गठबंधन के खिलाफ थे. वे नहीं चाहते थे कि हमारे बीच गठबंधन हो. उन्होंने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का एजेंट बताया. इसके साथ ही बसपा प्रमुख ने दिग्विजय सिंह के उस आरोप का भी खंडन किया जिसमें उन्होंने कहा था कि मायावती केंद्र सरकार के दबाव में आकर कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं कर रही हैं.

मायावती ने कहा, ‘कर्नाटक विधानसभा चुनाव में हमने क्षेत्रीय दलों के साथ गठबंधन किया था. अब छत्तीसगढ़ में भी यही किया है.’ उन्होंने स्पष्ट किया कि राजस्थान और मध्य प्रदेश में भी उनकी पार्टी क्षेत्रीय दलों के साथ मिलकर चुनाव लड़ सकती है. मायावती ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की रस्सी जल गई, मगर बल नहीं गया. कांग्रेस ने गुजरात से कुछ सबक नहीं लिया.

दिग्विजय ने कहा, मैं मोदी-शाह का सबसे बड़ा विरोधी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बसपा अध्यक्ष मायावती के आरोपों को खारिज किया है.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘मैं पहले ही साफ कर चुका हूं कि मैं मायावती का सम्मान करता हूं. मैं कांग्रेस और बसपा के बीच गठबंधन का समर्थक हूं. छत्तीसगढ़ में गठबंधन को लेकर बात हो रही थी लेकिन वो (मायावती) इसके लिए तैयार नहीं हुईं. मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस और बसपा के बीच गठबंधन को लेकर बातचीत चल रही थी लेकिन यहां उन्होंने 22 सीटों पर अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया.’

भाजपा का एजेंट होने के आरोपों पर दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘मैं नरेंद्र मोदी, अमित शाह, बीजेपी और आरएसएस का सबसे बड़ा आलोचक हूं. राहुल गांधी कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, हम सभी उनके आदेशों का पालन करेंगे.’

Comments