कैंपस

बिहार: ​स्कूल की दीवार पर अपशब्द लिखने का विरोध करने पर छात्राओं पर हमला, 30 घायल

बिहार के सुपौल ज़िले के कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय की नाबालिग छात्राओं ने कुछ लड़कों को स्कूल की दीवार पर अपशब्द लिखने से मना किया था. लड़कों ने इसकी शिकायत अपने अभिभावकों से की जिसके बाद भीड़ ने स्कूल पर हमला बोल दिया.

सुपौल ज़िले में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय. (फोटो साभार: एएनआई)

सुपौल ज़िले में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय. (फोटो साभार: एएनआई)

पटना: बिहार के सुपौल ज़िले में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में घुसकर नाबालिग छात्राओं पर भीड़ द्वारा हमला करने का मामला सामने आया है.

मामला सुपौल ज़िले के त्रिवेणीगंज थानाक्षेत्र के दरपखा गांव में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार शाम छात्राएं स्कूल में खेल रही थीं. स्कूल के बगल में एक अन्य स्कूल है. यहां पढ़ने वाले कुछ लड़के कथित तौर पर अक्सर छात्राओं के स्कूल की दीवार पर अपशब्द लिख दिया करते थे.

रिपोर्ट के अनुसार, छात्राओं ने शनिवार को इसका विरोध किया और लड़कों को मारकर भगा दिया. लड़कों ने इसकी शिकायत अपने अभिभावकों से की. जिसके बाद लड़कों की माताओं ने कुछ अन्य लोगों के साथ मिलकर स्कूल में हमला कर छात्राओं के साथ मारपीट की. हमले में तकरीबन 30 छात्राएं घायल हो गईं. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

अस्पताल में भर्ती छात्राओं ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में बताया, ‘लड़के अक्सर स्कूल की दीवारों पर अपशब्द लिख देते थे. हमने उन्हें ऐसा करने से मना किया तो हमारे साथ मारपीट की गई. उनके साथ महिलाएं भी थीं, जिन्होंने हमें मारा. साथ ही हमारे शिक्षकों के साथ बदतमिज़ी की.’

समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में एसपी मृत्युंजय कुमार चौधरी ने बताया, ‘इस संबंध में एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. एफआईआर में नौ लोगों को आरोपी बनाया गया है.’

सुपौल के ज़िलाधिकारी बैद्यनाथ यादव ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में बताया, ‘जिस समय हमला हुआ उस वक्त स्कूल में 74 छात्राएं थीं. इनमें से 30 घायल हुईं. उन्हें त्रिवेणीगंज रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. प्राथमिक इलाज के बाद 20 छात्राओं को छुट्टी दे दी गई. 10 छात्राओं का इलाज चल रहा है.’

एक ट्वीट में राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा है, ‘बिहार में सुपौल के त्रिवेणीगंज के कस्तूरबा गांधी गर्ल्स स्कूल में घुसकर असामाजिक तत्वों द्वारा हॉस्टल में रहने वाली 34 छात्राओं को बुरी तरीके से मारा-पीटा गया है. बेख़ौफ गुंडों की मार से घायल सभी छात्राओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सरकार नरम है, अपराध चरम पर है.’

Comments