भारत

फिल्म निर्देशक सुभाष घई और साजिद ख़ान और उमेश घाडगे पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप

#मीटू: सुभाष घई पर नशीला पदार्थ पिलाकर बलात्कार का आरोप लगा. घई ने आरोपों को नकारा. साजिद ख़ान ने ‘हाउसफुल 4’ फिल्म के निर्देशक पद से हटे. शूटिंग रुकी. ‘क्या कूल हैं हम 3’ के निर्देशक उमेश घाडगे पर अभिनेत्री मंदना करीमी ने लगाए आरोप.

फिल्म निर्देशक सुभाष घई, साजिद खान और उमेश घाडगे (बाएं से दाएं). (फोटो साभार: फेसबुक)

फिल्म निर्देशक सुभाष घई, साजिद खान और उमेश घाडगे (बाएं से दाएं). (फोटो साभार: फेसबुक)

मुंबई: फिल्म निर्देशक सुभाष घई, साजिद ख़ान के अलावा फिल्म ‘क्या कूल हैं हम 3’ के निर्देशक उमेश घाडगे बॉलीवुड की वो नवीनतम हस्तियां हैं जिन पर बलात्कार और यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए गए हैं.

सुभाष घई पर आरोप लगाने वाली अज्ञात महिला का आरोप है कि उन्होंने उनके पेय पदार्थ में नशीला पदार्थ मिला दिया और उसका यौन उत्पीड़न किया. महिला के इस आरोप का बीते गुरुवार को को निर्देशक ने कड़ाई से प्रतिवाद किया.

लेखक महिमा कुकरेजा ने ट्विटर पर अज्ञात अकाउंट साझा किया जो पिछले महीने कॉमेडियन उत्सव चक्रवर्ती पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली प्रथम महिलाओं में से एक हैं.

कुकरेजा ने कहा, ‘महिला काफी विश्वसनीय मीडिया हस्ती हैं जो अपना नाम उजागर नहीं करना चाहतीं.’

महिला ने कहा कि वर्षों पहले उन्होंने घई के साथ एक फिल्म में काम किया और वह उसमें कुछ ज्यादा ही रुचि लेने लगे और स्क्रिप्ट सेशन में वह अक्सर उन्हें अपने अपार्टमेंट में बुलाते.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार में मंत्री और पूर्व संपादक एमजे अकबर पर 8 महिला पत्रकारों ने लगाया यौन शोषण का आरोप

उन्होंने दावा किया कि एक बार उन्होंने जबरन उन्हें चूम लिया लेकिन अगले दिन यह कहकर उन्हें शांत कराने का प्रयास किया कि यह घटना ‘प्रेमियों की लड़ाई’ है.

उन्होंने आरोप लगाए कि देर रात तक चले संगीत सेशन में सुभाष घई ने शराब पी और उन्हें भी शराब की पेशकश की जिसमें नशीला पदार्थ मिला हुआ था.

महिला ने कहा कि फिर से होटल के कमरे में ले जाया गया जहां अचेतावस्था में उसका यौन शोषण किया गया.

73 वर्षीय घई ने बताया, ‘यह दुखद है कि किसी भी प्रसिद्ध आदमी की छवि ख़राब करने का प्रचलन हो गया है. विगत की कुछ कहानियों को बिना किसी सच्चाई के पेश किया जा रहा है. मैं इस तरह के सभी झूठे आरोपों का कड़ाई से खंडन करता हूं.’

उन्होंने कहा, ‘अगर वह ऐसा दावा करती हैं तो उसे अदालत में जाकर साबित करना चाहिए. या तो न्याय होगा या निश्चित तौर पर मैं मानहानि का मुक़दमा दायर करूंगा.’

‘हाउसफुल 4’ की शूटिंग रोकी गई, साजिद ख़ान को छोड़नी पड़ी निर्देशक की कुर्सी

सुभाष घई के अलावा फिल्म निर्देशक साजिद ख़ान पर कई महिलाओं ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं.

ख़ान के ख़िलाफ़ अभिनेत्री सलोनी चोपड़ा और एक पत्रकार ने यौन शोषण के आरोप लगाए हैं. ‘रेस 3’ फिल्म में नज़र आईं सलोनी चोपड़ा ने साज़िद ख़ान पर उनका असिस्टेंट रहने के दौरान यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है.

इसके अलावा सलोनी ने यह भी आरोप लगाया है कि अभिनेता ज़ायन दुर्रानी के साथ जब वह रिलेशनशिप ने थीं तब ज़ायन ने उन्हें शारीरिक तौर पर प्रताड़ित किया था. सलोनी ने फिल्म निर्देशक विकास बहल पर सेक्सिस्ट व्यवहार करने का आरोप लगाया.

ये भी पढ़ें: अभिनेता आलोक नाथ पर बलात्कार का आरोप, उन्होंने कहा- रेप हुआ होगा लेकिन मैंने नहीं किया

गौरतलब है कि क्वीन फिल्म के निर्देशक विकास बहल पर अभिनेत्री कंगना रनौत समेत कई महिलाओं ने यौन दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है.

बहरहाल सलोनी चोपड़ा के बाद पत्रकार करिश्मा उपाध्याय ने भी साजिद ख़ान पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. करिश्मा ने आरोप लगाया कि वह साजिद की बहन के घर उनका इंटरव्यू करने गई हुई थीं तो साज़िद ने उन्हें जबरन चूमा था.

इसके अलावा अभिनेत्री रेचल वाइट ने आरोप लगाया है कि साल 2015 में जब वह हमशकल्स फिल्म की कास्टिंग सिलसिले में मिली थीं तो साजिद ने उन्हें उनसे पांच मिनट में उन्हें आकर्षित (Seduce) करने के लिए कहा था.

पत्नी ट्विंकल खन्ना के ट्वीट के बाद फिल्म के अभिनेता अक्षय कुमार ने ‘हाउसफुल 4’ से मुंह मोड़ लिया, जिसके बाद निर्देशक साजिद ख़ान को अपनी कुर्सी छोड़नी पड़ी है.

निर्देशक साजिद ख़ान और मुख्य कलाकारों में शामिल नाना पाटेकर पर यौन शोषण के आरोप लगने के बाद ‘मी टू’ अभियान के समर्थन में उतरीं ट्विंकल खन्ना ने फिल्म के कलाकारों से कहा था कि वह निर्देशक के ख़िलाफ़ लगे आरोपों पर ‘कड़ा रुख़’ अपनाएं.

खन्ना ने ट्वीट किया, ‘यौन शोषण की कई घटनाओं के बारे में सुनकर सकते में हूं और इन महिलाओं ने जो कुछ भी झेला है उसके बारे में सुनना बहुत दुखद है. हाउसफुल के साथ जुड़े सभी लोगों को इसके ख़िलाफ़ खड़ा होने की ज़रूरत है. ऐसा नहीं चल सकता है.’

पत्नी के ट्वीट के बाद हाउसफुल सीरीज़ के मुख्य कलाकार अक्षय कुमार ने भी कहा कि फिलहाल फिल्म की शूटिंग बंद की जा रही है.

उन्होंने लिखा, ‘मैं बुधवार रात ही देश वापस लौटा हूं और इन सभी ख़बरों को पढ़ना बहुत परेशान करने वाला है. मैंने हाउसफुल 4 के निर्माताओं से अनुरोध किया है कि वह जांच पूरी होने तक शूटिंग रद्द कर दें.’

51 वर्षीय अक्षय कुमार ने कहा, ‘इस मुद्दे पर कड़ी कार्रवाई की ज़रूरत है. मैं किसी भी दोषी के साथ काम नहीं करूंगा और जिन लोगों को भी इस प्रताड़ना से गुज़रना पड़ा है उनका पक्ष सुना जाना चाहिए और उन्हें न्याय मिलना चाहिए.’

ये भी पढ़ें: ‘मंत्री और पूर्व संपादक एमजे अकबर ने मेरा यौन शोषण किया है’

पति-पत्नी के ट्वीट के कुछ देर बाद हाउसफुल 4 के निर्देशक साजिद ख़ान ने ट्विटर पर कहा कि वह फिल्म के निर्देशन की कमान छोड़ रहे हैं और मीडिया से अनुरोध किया कि सच्चाई सामने आने तक उन्हें ‘जज’ न किया जाए.

ख़ान ने लिखा है कि वह ‘नैतिक ज़िम्मेदारी’’ लेते हुए आरोपों के निराकरण तक निर्देशक की कुर्सी छोड़ रहे हैं.

उन्होंने ट्वीट किया है, ‘मेरे ऊपर लगे आरोपों और मेरे परिवार, मेरे निर्माताओं और मेरी फिल्म हाउसफुल 4 के कलाकारों पर बनाए जा रहे दबाव के मद्देनज़र, मुझे निर्देशक की कुर्सी छोड़ने की नैतिक ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए, उस वक़्त तक जब तक कि आरोपों का निराकरण न हो जाए और सच्चाई साबित न हो… मैं मीडिया में अपने मित्रों से अनुरोध करता हूं कि सच्चाई सामने आने तक वह मेरे ख़िलाफ़ कोई फैसला ना दें.’

ये भी पढ़ें: ‘लड़कियों के लिए न्यूज़रूम तक पहुंचना जितना मुश्किल है, उससे ज़्यादा मुश्किल वहां टिके रहना है’

हाउसफुल 4 फिल्म में नाना पाटेकर की भी भूमिका है. उनके ख़िलाफ़ अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने करीब दो सप्ताह पहले यौन शोषण के आरोप लगाए थे. अभिनेत्री के आरोप के बाद से ही भारत में ‘मी टू’ अभियान की शुरूआत हुई है.

हालांकि पाटेकर ने आरोपों से इंकार किया है और यह मामला फिलहाल अदालत में है.

‘क्या कूल हैं हम 3’ के निर्देशक उमेश घाडगे पर मंदना करीमी ने लगाए आरोप

अभिनेत्री मंदना करीमी ने निर्देशक उमेश घाटगे पर आरोप लगाया है कि फिल्म ‘क्या कूल हैं हम 3’ की शूटिंग के दौरान उमेश ने उन्हें यौन रूप से प्रताड़ित किया.

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में मंदाना ने आरोप लगाया है, ‘उमेश घाडगे डांस सीक्वेंस में बदलाव कर मुझे परेशान करते थे. ऐन टाइम पर बदलाव होने की बात कहकर डांस में नए लोगों को शामिल कर देते थे. इसके अलावा सेट पर जल्दी बुलाते थे और ऐसे कपड़े पहनने के लिए कहते थे जो मैं नहीं पहनना चाहती थी.’

उन्होंने कहा, ‘इस अनुभव ने मुझे वह पेशा छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया जिसे मैं प्यार करती थी. प्रताड़ना का मतलब छूना नहीं होता है. इसका मतलब मेरी ज़िंदगी को नर्क बना देना होता है. ये बहुत तकलीफदेह था. इसके बारे में मैंने किसी से बात नहीं की थी.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments