भारत

दिल्ली में तीन बच्चियों की मौत भुखमरी से ही हुई थी: विसरा रिपोर्ट

दिल्ली के मंडावली में बीते जुलाई महीने में तीन बच्चियों की मौत हो गई थी. तीनों बच्चियां सगी बहनें थीं और विसरा रिपोर्ट में ये बात सामने आई है कि उन्हें कई दिनों से खाना नहीं मिला था. जांच के दौरान लड़कियों के शरीर में कोई ज़हर नहीं मिला.

Mandavali Girls

(फोटो साभार: एनडीटीवी)

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के मंडावली में बीते जुलाई महीने में तीन बच्चियों की मौत भुखमरी के कारण मौत ही हुई थी. हालांकि उस समय इस बात को लेकर विवाद था कि इन बच्चियों की मौत भूख की वजह से ही हुई है या कोई अन्य वजह है.

राज्य की आम आदमी पार्टी सरकार ने मामले में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए थे. एनडीटीवी की खबर के मुताबिक विसरा रिपोर्ट से यह कंफर्म हो गया है कि इन बच्चियों की मौत भूख के वजह से ही हुई थी.

तीनों बच्चियां सगी बहनें थीं और विसरा रिपोर्ट में ये बात सामने आई है कि उन्हें कई दिनों से खाना नहीं मिला था. जांच के दौरान लड़कियों के शरीर मे कोई ज़हर नहीं मिला.

तीनों बहनों के 2 पोस्टमॉर्टम भी हुए थे. पहला पोस्टमार्टम लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में कराया गया था वहीं दूसरा पोस्टमार्टम जीटीबी अस्पताल में किया गया था.

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में डॉक्टरों ने बताया था कि तीनों के पेट में खाने का एक अंश भी नहीं मिला है. लगता है उन्हें सात-आठ दिन से खाना नहीं मिला.

बता दें कि बीते 26 जुलाई को पूर्वी दिल्ली के मंडावली क्षेत्र में भूख की वजह से तीन बहनों की मौत की खबर आई थी. पुलिस ने बताया था कि इन तीनों लड़कियों की उम्र दो, चार और आठ साल की थी.

घटना के पहले बच्चियों के मजदूर पिता काम पर गए थे और मां भी मानसिक रूप से बीमार है. ये परिवार पश्चिम बंगाल का रहने वाला है और जुलाई महीने में ही मंडावली में रहने आए थे.

उस समय पुलिस की एक फॉरेंसिक टीम ने परिवार के निवास स्थान का दौरा किया था और उन्हें कुछ दवाओं की बोतलें और दवाइयां मिली थीं. अंदेशा था कि लड़कियों ने कई दिनों से खाना नहीं खाया था. इसकी वजह से वे बीमार भी हो गई थीं.