राजनीति

अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगी: सुषमा स्वराज

केंद्रीय विदेश मंत्री और मध्य प्रदेश के विदिशा से सांसद सुषमा स्वराज ने कहा कि उन्होंने स्वास्थ्य कारणों से लोकसभा चुनाव न लड़ने का मन बना लिया है.

Jabalpur: External Affairs Minister Sushma Swaraj addresses the media persons ahead of Madhya Pradesh Assembly elections, in Jabalpur, Monday, Nov.19, 2018. (PTI Photo) (PTI11_19_2018_000081B)

केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज. (फोटो: पीटीआई)

केंद्रीय विदेश मंत्री का पद संभाल रहीं भाजपा की कद्दावर नेता सुषमा स्वराज ने अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की है. मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विदिशा से सांसद सुषमा स्वराज ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों में भाग न लेने की बात कही.

मालूम हो कि उन्होंने अपने किडनी प्रतिरोपण के बाद स्वास्थ्य कारणों से अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है.

स्वराज इंदौर में संवाददाताओं से कहा, ‘वैसे तो मेरी चुनावी उम्मीदवारी तय करने का अधिकार मेरी पार्टी को है. लेकिन स्वास्थ्य कारणों से मैंने अपना मन बना लिया है कि मैं अगला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगी.’

सुषमा, 2009 से ही लोकसभा में मध्य प्रदेश के विदिशा क्षेत्र की नुमाइंदगी कर रही हैं.

भाजपा की 66 वर्षीय नेता ने कहा, ‘विदिशा से वर्ष 2009 में लोकसभा सदस्य चुने जाने के बाद मैं सदन की नेता प्रतिपक्ष और इसके पश्चात विदेश मंत्री के अहम पदों पर आसीन होने के बावजूद आठ साल तक अपनी संसदीय सीट के आठों विधानसभा क्षेत्रों में हर महीने नियमित तौर पर जाती थी. लेकिन दिसंबर 2016 में किडनी प्रतिरोपण के बाद मुझे डॉक्टरों ने धूल से बचने की हिदायत दी है. इस कारण मैं पिछले एक साल से चुनावी सभाओं में भी भाग नहीं ले पा रही हूं.’

उन्होंने कहा, ‘मैं स्वास्थ्य कारणों से खुले स्थानों पर आयोजित कार्यक्रमों में शामिल नहीं हो सकती हूं. मैं बंद सभागारों में ही कार्यक्रम कर सकती हूं. मैंने अपने नेतृत्व से भी कहा है कि अपने स्वास्थ्य की मर्यादा को देखते हुए मुझे धूल से बचना है.’

स्वराज ने कहा, ‘मैं विदेश तो जा सकती हूं. लेकिन धूल से बचने की डॉक्टरी हिदायत के कारण गुज़रे अरसे में विदिशा नहीं जा सकी, क्योंकि कुछ एक कस्बों को छोड़कर मेरा पूरा संसदीय क्षेत्र देहाती है.’

गुज़रे अरसे में विदिशा क्षेत्र में स्वराज के नहीं पहुंचने पर नाराज़ लोगों ने लोकसभा सांसद को ‘गुमशुदा’ बताते हुए पोस्टर लगाये थे.

इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘अगर मेरे विरोधी मेरे स्वास्थ्य के प्रति इस क़दर संवेदहीन होकर ऐसे पोस्टर लगाते हैं, तो मुझे इस पर कुछ नहीं कहना.’

उन्होंने कहा, ‘मेरा रिकॉर्ड मध्य प्रदेश की ऐसी लोकसभा सांसद का रहा है, जिसने अपने क्षेत्र का सबसे ज़्यादा दौरा किया है. पिछले दो साल के दौरान मैं भले ही अपने संसदीय क्षेत्र का दौरा नहीं कर सकी हूं. लेकिन मैंने विदिशावासियों से किए गए सारे वादे दिल्ली में बैठकर पूरे किए हैं.’

स्वराज ने कहा, ‘बुधनी-इंदौर रेललाइन को मंज़ूरी दिलाने का वायदा भी मैंने आगामी चुनावों से पहले पूरा कर दिया है.’ मालूम हो कि मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र सुषमा स्वराज पिछले कई दिनों से भाजपा का चुनाव प्रचार कर रही हैं.