राजनीति

केंद्रीय मंत्री अठावले को थप्पड़ मारने की कोशिश, पुलिस ने युवक को हिरासत में लिया

रामदास अठावले ने कहा कि पुलिस ने उचित सुरक्षा मुहैया नहीं कराई, जिससे हमलावर को मुझे निशाना बनाने में मदद मिली. मेरी लोकप्रियता बढ़ रही है और इसलिए शायद ईर्ष्यावान व्यक्ति ने मुझे निशाना बनाया.

रामदास अठावले. (फोटो साभार: ट्विटर)

रामदास अठावले. (फोटो साभार: ट्विटर)

ठाणे: केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले को एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कथित तौर पर थप्पड़ मारने की कोशिश करने के मामले में 30 वर्षीय एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि रिपब्लिकन पार्टी आॅफ इंडिया (आरआईपी- अठावले) के प्रमुख महाराष्ट्र के ठाणे जिले के अम्बरनाथ में शनिवार शाम एक रैली को संबोधित करने पहुंचे थे. संविधान पर भाषण देने के बाद मंच से नीचे उतरते समय करीब सवा दस बजे यह घटना हुई.

प्रवीण गोसावी (30) ने अठावले को माला पहनाने के बहाने कथित तौर पर थप्पड़ मारने की कोशिश की. इसके बाद वहां मौजूद लोगों ने उसे पकड़कर पीटना शुरू कर दिया और फिर पुलिस के हवाले कर दिया.

अधिकारी ने बताया सामाजिक न्याय एवं सशक्तीकरण राज्य मंत्री को कोई चोट नहीं आई क्योंकि उनके साथ खड़े लोगों और पुलिसकर्मियों ने गोसावी की मंशा को सफल नहीं होने दिया.

पुलिस ने बताया कि लोगों द्वारा पीटे गए गोसावी को पहले उल्हासनगर में भर्ती कराया गया था लेकिन बाद में उसे मुंबई के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया.

अम्बरनाथ पुलिस थाना निरीक्षक केजी चव्हाण ने कहा, ‘हमने धारा 353 और 332 के तहत मामला दर्ज किया गया है. गोसावी को अभी हिरासत में लिया गया है, गिरफ्तार नहीं किया गया.’

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गोसावी ने हमला क्यों किया, इसका अभी पता नहीं चल पाया है. उसे आरआईपी (अठावले) से बर्खास्त किया जाना एक वजह हो सकता है.

ठाणे के पुलिस उपायुक्त (जोन चतुर्थ) पीपी श्वाले ने कहा, ‘गोसावी की सदस्यता आरआईपी (अठावले) ने करीब एक वर्ष पहले आपराधिक कृत्यों में संलिप्तता और लोगों को आरटीआई के जरिए ब्लैकमेल करने के मद्देनजर रद्द कर दी थी.’

डीसीपी ने कहा, ‘शायद वह इस बात को लेकर गुस्से में था और इसलिए ही उसने शायद केंद्रीय मंत्री पर हमला करने की कोशिश की.’

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. स्थानीय आरआईपी (अठावले) इकाई ने घटना के विरोध में रविवार को अम्बरनाथ बंद का आह्वान किया है.

अधिकारी ने बताया कि शहर में स्थिति शांत है और निगरानी रखने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी वहां तैनात किए गए हैं. सुबह से किसी भी अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं है.

पर्याप्त सुरक्षा न होने की वजह से हुई थप्पड़ मारने की कोशिश: अठावले

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने एक व्यक्ति के उन्हें थप्पड़ मारने की कोशिश की घटना के लिए पुलिस को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि वह उन्हें उचित सुरक्षा मुहैया कराने में असफल रही.

रविवार सुबह जारी किए गए बयान में अठावले ने कहा, ‘पुलिस ने उचित सुरक्षा मुहैया नहीं कराई, जिससे हमलावर को मुझे निशाना बनाने में मदद मिली. मेरी लोकप्रियता बढ़ रही है और इसलिए शायद ईर्ष्यावान व्यक्ति ने मुझे निशाना बनाया. मैं इस सिलसिले में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री से मुलाकात करूंगा.’

घटना के मद्देनजर अठावले ने रविवार सुबह अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील की.

(समाचार एजेंसी भाषा के इनपुट के साथ)