मीडिया

ज़ी न्यूज़ के शो में भाजपा और सपा प्रवक्ताओं में हाथापाई, हिरासत में लिए गए सपा नेता रिहा

नोएडा स्थित ज़ी न्यूज़ के शो में भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया और समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया के बीच हुई झड़प. भाजपा प्रवक्ता ने पुलिस में की थी शिकायत.

TV Debate

नोएडा: सेक्टर 16ए स्थित एक ख़बरिया चैनल में बहस के दौरान भाजपा और सपा के प्रवक्ता आपस में उलझ गए. इस मामले में भाजपा प्रवक्ता ने नोएडा सेक्टर 20 पुलिस थाने में शिकायत की है. पुलिस ने सपा प्रवक्ता को हिरासत में ले लिया है. हालांकि पुलिस ने अब उन्हें रिहा कर दिया है.

दोनों नेताओं के बीच मारपीट की नौबत ज़ी न्यूज़ हिंदी के कार्यक्रम ये क्या कहता है इंडिया के दौरान आ गई. वीडियो में दोनों नेता एक दूसरे के साथ धक्का-मुक्की करते नज़र आ रहे हैं और कार्यक्रम में मौजूद अन्य लोग उनका बचाव कर रहे हैं.

गौतमबुद्ध नगर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. अजय पाल ने बताया कि शनिवार दोपहर बाद सेक्टर 16-ए स्थित एक समाचार चैनल पर लाइव चर्चा के दौरान भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता गौरव भाटिया तथा समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया के बीच तीखी झड़प के बाद हाथापाई हुई.

उन्होंने बताया कि भाजपा प्रवक्ता ने थाना सेक्टर 20 में शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद पुलिस ने भदौरिया को हिरासत में ले लिया गया. उन्होंने बताया कि न्यूज़ चैनल से झड़प का वीडियो देने को कहा गया है.

उधर, सपा प्रवक्ता की गिरफ्तारी की सूचना के बाद थाना सेक्टर 20 पर सपा के कार्यकर्ता व नेता पहुंच गए. इसके बाद पुलिस भदौरिया को वहां से थाना एक्सप्रेस वे ले गई. समर्थकों के साथ थाने पहुंचे सपा सांसद सुरेंद्र सिंह नागर ने भदौरिया के साथ मारपीट का आरोप लगाया.

इस घठना के बाद गौरव भाटिया ने घटना से संबंधित एक वीडियो क्लिप ‘एसपीकेगुंडे’ हैशटैग से एक ट्वीट किया है. इस ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘यह प्रवक्ता नहीं गुंडे हैं. अनुराग भदौरिया ने पूरी डिबेट में व्यग्तिगत टिप्पणी की और अपशब्द बोले. इनके हथकंडे हैं, ख़ूब व्यक्तिगत टिप्पणियां करो, परिवार के लिए अपशब्द बोलो और जब कुछ न काम आए और दूसरा व्यक्ति संयम बनाए रखे तो हाथापाई पर उतर जाओ.’

उधर, समाजवादी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर पेज से हुए एक ट्वीट में कहा गया है, ‘अभद्र व्यवहार, अनुचित शब्दों का प्रयोग एवं मारपीट करने वाले भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया झूठ बोलना बंद करिएत्र घटना का कोई साक्ष्य है तो जनता के सामने प्रस्तुत करिए. जी न्यूज़ से भी अनुरोध है कि संबंधित घटना का कोई वीडियो हो तो सार्वजनिक करें.

मालूम हो कि भाजपा में शामिल होने के पहले गौरव भाटिया सपा में थे. समाजवादी पार्टी में भी गौरव भाटिया प्रवक्ता थे.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

Comments