दुनिया

नोटबंदी के बाद जारी नए भारतीय नोटों पर नेपाल ने लगाया प्रतिबंध

नेपाल सरकार ने 100 रुपये के अलावा 200, 500 और 2000 रुपये के भारतीय नोटों को देश में अमान्य घोषित कर दिया है.

(फोटो: पीटीआई)

(फोटो: पीटीआई)

नेपाल सरकार ने देश में भारतीय मुद्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है. काठमांडू पोस्ट की खबर के मुताबिक 100 रुपये से अधिक मूल्य के भारतीय नोट अब से नेपाल में नहीं चलेंगे. सरकार का यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू होगा.

नेपाल सरकार के प्रवक्ता और सूचना और संवाद मंत्री गोकुल प्रसाद बसकोटा ने कहा कि लोग भारतीय मुद्रा रखने से बचें क्योंकि अब तक सरकार ने 200, 500 और 2000 रुपये के नए भारतीय नोटों को वैधता नहीं दी है. सिर्फ 100 रुपये का भारतीय नोट नेपाल में स्वीकार्य होगा.

बताया जा रहा है कि नवंबर 2016 में भारत में 500 और 1000 रुपये के नोट चलन से बाहर होने के बाद नेपाल में बड़ी संख्या में कई करोड़ों की पुरानी भारतीय मुद्रा फंसी हुई है.

मालूम हो कि नेपाल में 200 और 500 रुपये के भारतीय नोटों का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल होता है. नोटबंदी के बाद भारत सरकार द्वारा नए नोट लाने के बाद नेपाल सरकार ने भारतीय मुद्रा को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया गया था और तबसे नेपाल में भारतीय नोट उसी प्रकार चलन में थे.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार इस फैसले के बाद भारत में काम कर रहे नेपाली मजदूरों के साथ भारत से नेपाल जाने वाले निम्न और मध्य वर्ग के ढेरों पर्यटक प्रभावित होंगे.

नेपाल सरकार द्वारा यह फैसला ऐसे समय में आया है, जब सरकार द्वारा साल 2020 को ‘विजिट नेपाल ईयर’ के रूप में मनाने की तैयारियां चल रही हैं. एक अनुमान के अनुसार इस साल करीब 20 लाख लोग नेपाल पहुंचेंगे, जिनमें बड़ी संख्या भारतीयों की होगी.