भारत

नोएडा में स्कूल की दीवार गिरने से दो बच्चों की मौत, तीन की हालत गंभीर

नोएडा के सलारपुर स्थित खजान मेमोरियल पब्लिक स्कूल में हुआ हादसा. पुलिस ने मामला दर्ज किया.

सलारपुर कालोनी स्थित खजान मेमोरियल पब्लिक स्कूल की दीवार गिरी (फोटो: एएनआई ट्विटर)

सलारपुर कालोनी स्थित खजान मेमोरियल पब्लिक स्कूल की दीवार गिरी (फोटो: एएनआई ट्विटर)

नोएडा: शहर के सलारपुर कॉलोनी स्थित खजान मेमोरियल (केएम) पब्लिक स्कूल की छत और दीवार सोमवार की सुबह भरभरा कर गिरने से उसके मलबे में दबकर दो बच्चों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए.

पुलिस ने इस सिलसिले में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. उनके अनुसार यह स्कूल मान्यता प्राप्त नहीं है.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. अजय पाल ने बताया कि नोएडा थाना सेक्टर 49 क्षेत्र के सलारपुर कॉलोनी में केएम पब्लिक स्कूल है. इस स्कूल के पास देशराज नामक व्यक्ति का एक खाली प्लॉट है. इसमें सोमवार सुबह निर्माण कार्य चल रहा था. जिसकी वजह से जेसीबी खुदाई कर रही थी.

उन्होंने बताया की खुदाई की वजह से स्कूल की दीवार नीचे को धंस गई और स्कूल की छत व दीवार भरभरा कर गिर गई. इस घटना में स्कूल में पढ़ रहे छात्र विवेक (10), भूपेंद्र (10), आकाश (8), नैतिक (8) और रेशू (7) दब गए.

अमर उजाला की ख़बर के अनुसार, बच्चों के माता-पिता ने बताया है कि जब यह हादसा हुआ तो बच्चों की परीक्षा शुरू हुई थी. हादसे के वक्त स्कूल स्टाफ कॉपी जांच रहा था और हादसे के बाद भाग खड़ा हुआ. यह स्कूल किराए की बिल्डिंग में चल रहा था.

अधिकारी ने बताया कि घटना की सूचना पाकर मौके पर पुलिस और दमकल विभाग की गाड़ियां पहुंची. उन्होंने बताया कि बच्चों को मलबे से निकाल कर उन्हें नोएडा के यथार्थ अस्पताल में भर्ती कराया गया.

उन्होंने बताया कि उपचार के दौरान डॉक्टरों ने भूपेंद्र और विवेक को मृत घोषित कर दिया. तीन बच्चों की हालत नाजुक बनी हुई है.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. पाल ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने स्कूल के प्रबंधन व पड़ोस के भूखंड में निर्माण कार्य करा रहे देशराज के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

घटना की सूचना पाकर मौके पर जिलाधिकारी गौतम बुध नगर बीएन सिंह भी पहुंचे. उन्होंने घायल व मृतक के परिजनों से मुलाकात की तथा उन्हें हरसंभव सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जांच का आदेश दिए हैं. उन्होंने जीबी नगर मजिस्ट्रेट को बचाव और राहत कार्यों की निगरानी करने का निर्देश दिया है और घोषणा की है कि घायलों को पर्याप्त चिकित्सा सहायता प्रदान की जाएगी.

जिलाधिकारी ने बताया कि इस मामले की जांच एसडीएम दादरी अंजनी कुमार सिंह को सौंपी गई है. उनकी रिपोर्ट के बाद इस मामले में अग्रिम कार्रवाई की जाएगी.

(समाचार एजेंसी भाषा के इनपुट के साथ)