भारत

भाजपा में शामिल हुए हादिया के पिता

केरल में मुस्लिम युवक से शादी करने के लिए धर्म बदलने वाली हादिया के पिता केएम अशोकन ने उनकी शादी को ‘लव जिहाद’ बताते हुए अदालत का दरवाज़ा खटखटाया था.

हादिया के पिता केएम अशोकन (फोटो साभार: एएनआई)

हादिया के पिता केएम अशोकन (फोटो साभार: एएनआई)

केरल में मुस्लिम युवक से शादी करने के लिए धर्मांतरण करने वाली युवती हादिया के पिता केएम अशोकन मंगलवार को भाजपा में शामिल हो गए.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार केएम अशोकन ने पिछले हफ्ते भाजपा के ऑनलाइन सदस्यता अभियान के जरिये पार्टी जॉइन की थी, मंगलवार को टीवी पुरम में सबरीमाला फैसले के विरोध में हुई बैठक में भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता बी. गोपालकृष्णन ने अशोकन को औपचारिक रूप से पार्टी का सदस्यता कार्ड जारी किया.

मालूम हो कि साल 2016 में केरल के कोट्टायम ज़िले की अखिला अशोकन ने धर्म परिवर्तन के बाद हादिया जहां के रूप में शफीन जहां से निकाह किया था.

इस मामले को हादिया के पिता अशोकन ने लव जिहाद का नाम देते हुए केरल उच्च न्यायालय का दरवाज़ा खटखटाया था. अशोकन ने आरोप लगाया था कि मामले में जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया है.

उन्होंने हादिया को लेकर चिंता भी जताई थी कि उसे आतंकवादी संगठन आईएस में शामिल होने के लिए सीरिया भेज दिया जाएगा. हादिया से निकाह करने वाले शफीन मस्कट में काम करते हैं और उनके माता पिता भी वहीं रहते हैं.

इसके बाद केरल उच्च न्यायालय ने इस विवाह को अवैध क़रार देते हुए इसे लव जिहाद बताया था और हादिया को उनके परिवार के संरक्षण में भेज दिया था.

उच्च न्यायालय द्वारा इस विवाह को अमान्य घोषित करने के फैसले को चुनौती देते हुए हादिया ने शीर्ष अदालत में याचिका दायर की, जिसमें उसने इस निर्णय को देश में महिलाओं की स्वतंत्रता का अपमान बताया था.

बीते 8 मार्च को सुप्रीम कोर्ट ने केरल हाईकोर्ट के इस फैसले को पलट दिया. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से केरल में हुए अंतर धार्मिक विवाहों के कथित ‘लव जिहाद’ होने की जांच करने के लिए कहा था.

जिसमें बीते 18 अक्टूबर को एनआईए ने बताया कि उसे केरल में हुए अंतर धार्मिक विवाह के कथित ‘लव जिहाद’ होने के कोई प्रमाण नहीं मिले हैं.

एनआईए ने इन मामलों में जांच खत्म करते हुए अपनी रिपोर्ट में कहा है कि ऐसे विवाहों में लव जिहाद जैसा कुछ नहीं था और उन्हें किसी भी तरह के जबरन धर्म परिवर्तन को लेकर भी कोई सबूत नहीं मिले हैं.

दैनिक जागरण की खबर के अनुसार भाजपा में शामिल होने के बाद मीडिया से बातचीत में केएम अशोकन ने कहा, ‘भाजपा अकेला ऐसा राजनीतिक संगठन है, जो हिंदुओं के विश्वास की रक्षा कर रहा है.’