भारत

मध्य प्रदेश: कलेक्टर-डिप्टी कलेक्टर का भाजपा को जिताने संबंधी कथित वॉट्सऐप चैट वायरल, केस दर्ज

वायरल हुए चैट को मध्य प्रदेश में शहडोल की कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव और डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी का बताया जा रहा है. कांग्रेस की ओर से कहा गया कि हम चुनाव आयोग को लिख रहे हैं कि कलेक्टर को हटाया जाए और जैतपुर में दोबारा चुनाव कराया जाए.

मध्य प्रदेश में शहडोल की कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव और डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी का कथित वॉट्सऐप चैट.

मध्य प्रदेश में शहडोल की कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव और डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी का कथित वॉट्सऐप चैट.

शहडोल: मध्य प्रदेश में शहडोल की कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव और डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी के बीच कथित विवादस्पद वॉट्सऐप चैट वायरल हुई है. इस संबंध में पुलिस ने अज्ञात आरोपी के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है.

यह कथित चैट मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए हुए हाल ही में हुए मतदान की मतगणना करने के दौरान की बताई बताई जा रही हैं, जिसमें डिप्टी कलेक्टर से कलेक्टर भाजपा के पक्ष में काम करने के लिए कह रही हैं. इस सीट पर भाजपा प्रत्याशी को जीत मिली थी.

कांग्रेस ने इस चैट के वायरल हो जाने के बाद शहडोल ज़िले की जैतपुर विधानसभा सीट पर फिर से चुनाव कराने की मांग की है.

वहीं, इस चैट के वायरल होने के बाद डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी ने इसे किसी की शरारत बताते हुए कोतवाली थाने में शिकायत की है, जिसके बाद पुलिस ने अज्ञात आरोपी के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है.

एनडीटीवी से बातचीत में पूजा तिवारी ने कहा है, ‘मेरा और कलेक्टर मैडम के नाम से किसी ने ग़लत मैसेज वॉट्सऐप में चलाया. मैंने कोतवाली थाने में एफआईआर दर्ज करवा दी हैं. ऐसा कुछ हुआ ही नहीं, वो फोन नंबर भी फ़र्ज़ी था. जो हमारा ग्रुप है डिप्टी कलेक्टर का उसमें भी ये मैसेज गया सीधे… उन्होंने मुझे कहा पूजा, देखो ये क्या हो रहा है तो हम सबने चर्चा करके एफआईआर करवाई. मैडम ने भी सारे वरिष्ठ अधिकारियों को ये बताया. मेरी छवि ख़राब करने के लिए ये मैसेज चला रहे हैं.’

शहडोल ज़िले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण भूरिया ने बताया, ‘पूजा तिवारी की शिकायत पर बुधवार को आईटी एक्ट के तहत अज्ञात व्यक्ति के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया गया है और जांच जारी है.’

वायरल हुई अनुभा श्रीवास्तव और पूजा तिवारी के बीच का कथित वॉट्सऐप चैट के स्क्रीन शॉट्स में कलेक्टर द्वारा जैतपुर में भाजपा को जिताने के लिए मदद करने की बात कही गई है. कहा जा रहा है कि यह चैट पिछले साल 11 दिसंबर को हुए विधानसभा चुनाव की मतगणना के दिन परिणाम घोषित करने से ठीक पहले की हैं और जिस वक्त यह चैट की गई, उस वक़्त भाजपा प्रत्याशी जैतपुर सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी से पीछे चल रही थी.

कलेक्टर की इस चैट में कहा गया है कि यदि पूजा तिवारी भाजपा की मदद करती है तो उन्हें भाजपा की सरकार फिर से आने पर सब डिविजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) बना दिया जाएगा.

शहडोल ज़िले के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व विधायक रामपाल सिंह ने शुक्रवार को संवाददाताओं को बताया, ‘हम चुनाव आयोग को लिख रहे हैं कि कलेक्टर को हटाया जाये और जैतपुर में दोबारा चुनाव कराया जाए.’

उन्होंने कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि जैतपुर में फिर से चुनाव हो.’’

शहडोल कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव से इस बारे में प्रतिक्रिया जानने के लिए बार-बार फोन करने पर भी संपर्क नहीं हो पाया.

इस कथित चैट में डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी कह रही हैं, ‘दो सेक्टर में सिचुएशन कंट्रोल में है. बट (लेकिन) जैतपुर की नहीं हो पा रही. कांग्रेस लीड बना रही है और उमा धुर्वे के काफी समर्थक हैं.’

इस पर कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव की ओर से कथित तौर कहा गया, ‘मुझे कांग्रेस क्लीनस्वीप चाहिए. मैं आरओ डेहरिया को फोन कर देती हूं. पूजा अगर तुम्हें एसडीएम का चार्ज लेना है तो जैतपुर में बीजेपी को विन कराओ.’

इसके जवाब में कथित तौर पर डिप्टी कलेक्टर पूजा तिवारी कहती हैं, ‘ओके मैम, मैं मैनेज करती हूं बट कोई इन्क्वायरी तो नहीं होगी.’ इस पर कलेक्टर अनुभा श्रीवास्तव कहती हैं, ‘मैं हूं. मेहनत कर रही हो तो बीजेवी गवर्नमेंट बनते ही तुम्हें एसडीएम का चार्ज मिलेगा.’

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)