राजनीति

अरुण जेटली की अनुपस्थिति में रेल मंत्री पीयूष गोयल को मिला वित्त मंत्रालय का प्रभार

कैंसर का इलाज कराने के लिए अरुण जेटली इन दिनों अमेरिका में हैं. 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार आख़िरी बजट भी पीयूष गोयल पेश करेंगे.

New Delhi: Union Minister for Railways, Coal and Finance Piyush Goyal addresses a press conference after the Cabinet meeting in New Delhi on Wednesday, June 13, 2018. (PTI Photo/Vijay Verma) (PTI6_13_2018_000147B)

पीयूष गोयल. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार बुधवार को सौंपा गया. वित्त मंत्री अरुण जेटली अमेरिका में कैंसर का इलाज करा रहे हैं इसलिए केंद्र की मोदी सरकार ने यह क़दम उठाया है.

आने वाली एक फरवरी को पीयूष गोयल द्वारा अंतरिम बजट पेश करेंगे. लोकसभा चुनाव से पहले यह मोदी सरकार का आख़िरी बजट होगा. वित्त मंत्रालय के प्रवक्ता डीएस मलिक ने इस बात की पुष्टि की है.

केंद्र सरकार की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘प्रधानमंत्री की सलाह के बाद भारत के राष्ट्रपति ने अरुण जेटली की अनुपस्थिति तक पीयूष गोयल को वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय का अस्थायी कार्यभार सौंपने का निर्देश दिया है.’

विज्ञप्ति के अनुसार, जब तक अरुण जेटली स्वस्थ नहीं हो जाते तब तक वह बिना मंत्रालय के मंत्री बने रहेंगे.

65 वर्षीय अरुण जेटली कैंसर के इलाज के लिए बीते 13 जुलाई को अमेरिका (न्यूयॉर्क) रवाना हुए थे. बताया जा रहा है कि उनकी वहां एक सर्जरी हो चुकी है. अरुण जेटली की जांघ में सॉफ्ट टिश्यू कैंसर का पता चला है.

मालूम हो कि पीयूष गोयल को दूसरी बार वित्त मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया है. इसके पहले पिछले साल मई में अरुण जेटली के किडनी ट्रांसप्लांट के समय भी गोयल ने कुछ दिनों तक रेल के साथ वित्त मंत्रालय संभाला था.