भारत

एक आतंकवादी भी मारा जाता है तो दर्द होता है: जम्मू कश्मीर के राज्यपाल

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एक कार्यक्रम के दौरान कश्मीर घाटी के आतंकवादियों से हिंसा छोड़कर मुख्यधारा में लौटने का अनुरोध किया है.

Srinagar: Jammu and Kashmir Governor Satya Pal Malik during an Interview with PTI, in Srinagar, on Tuesday, October 16, 2018. ( PTI Photo/S Irfan)(Story No. DEL 66)(PTI10_16_2018_000159B)

राज्यपाल सत्यपाल मलिक (फोटो: पीटीआई)

जम्मू: जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने घाटी के आतंकवादियों से हिंसा छोड़ने और मुख्यधारा में लौटने का अनुरोध करते हुए कहा कि एक आतंकवादी भी मारा जाता है तो उन्हें दर्द होता है.

राज्यपाल ने आतंकवादी गतिविधियों को रोकने में सफलता के लिए प्रदेश पुलिस सहित सुरक्षा बलों की सराहना की.

मलिक ने बताया कि प्रशासन जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों के पुनर्वास के लिए एक नया पैकेज तैयार करने की प्रक्रिया में है.

यहां कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से बातचीत में मलिक ने कहा, ‘पुलिस अपनी ड्यूटी को बेहतर तरीके से निभा रही है. लेकिन यदि एक भी आतंकवादी मारा जाता है तो मुझे दर्द होता है… इन सबको (मुख्यधारा में) लौट आना चाहिए.’’

मलिक ने कहा, ‘जब मैंने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल का कार्यभार संभाला तब से मेरी कोशिश उनको (सुरक्षा बलों) हरसंभव सुविधा उपलब्ध कराने की रही है. मैंने देखा है कि वे कठिन परिस्थितियों और भारी बर्फबारी में अपने अभियानों को अंजाम देते हैं.’

उन्होंने कहा कि जब हम अपने घरों में रात में सो रहे होते हैं तब वे अपने अपनी ड्यूटी निभा रहे होते हैं. कई दफ़ा सुबह तीन बजे तक वे अभियान को अंजाम देने में लगे होते हैं.