भारत

मोदी के संभावित विकल्प के रूप में पेश किए जाने से गडकरी के लिए चिंतित हूं: शरद पवार

देश के बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी की तारीफ कांग्रेस के साथ-साथ अन्य विपक्षी दलों ने भी की है. हाल ही में जब गडकरी अपने मंत्रालय के काम पर लोकसभा में जवाब दे रहे थे तब केवल भाजपा के नेता ही नहीं बल्कि सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे कांग्रेसी नेता भी टेबल थपथपा रहे थे.

शरद पवार (फोटो: रॉयटर्स)

शरद पवार (फोटो: रॉयटर्स)

शोलापुर (महाराष्ट्र): राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार का कहना है कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संभावित विकल्प के रूप में पेश किए जाने से वो चिंतित हैं.

एनडीटीवी की ख़बर के अनुसार, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पवार ने कहा, ‘नितिन गडकरी मेरे दोस्त हैं और हमने साथ किया है. उनका नाम प्रधानमंत्री मोदी के संभावित विकल्प के रूप में पेश किया जा रहा है, जिससे मैं उनके लिए बहुत चिंतित हूं.’

61 वर्षीय गडकरी के लगभग सभी दलों के साथ अच्छे रिश्ते हैं. यही कारण है कि ऐसे अनुमान भी लगाए जा रहे हैं कि इस साल मई में होने वाले आम चुनावों में अगर भाजपा पर्याप्त सीटें नहीं हासिल कर पाई तो वे संभावित प्रधानमंत्री उम्मीदवार हो सकते हैं.

एनडीए गठबंधन का हिस्सा लेकिन मौजूदा भाजपा नेतृत्व की आलोचक शिवसेना का भी कहना है कि गडकरी की संघ के साथ-साथ भाजपा के अन्य नेताओं में भी स्वीकार्यता है.

देश के बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गडकरी की तारीफ कांग्रेस के साथ-साथ अन्य विपक्षी दलों ने भी की है. हाल ही में जब गडकरी अपने मंत्रालय के काम पर लोकसभा में जवाब दे रहे थे तब केवल भाजपा के नेता ही नहीं बल्कि सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे कांग्रेसी नेता भी टेबल थपथपा रहे थे.

मालूम हो कि गडकरी कुछ दिनों से काफी चर्चा में हैं. मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भाजपा की हार के बाद केंद्रीय मंत्री ने कहा था कि जीत का श्रेय लेने सब आगे आते हैं, लेकिन हार की ज़िम्मेदारी कोई नहीं लेना चाहता.

हाल ही में गडकरी ने कहा था कि जो लोग अपना घर नहीं संभाल सकते हैं, वे देश को नहीं संभाल सकते हैं. इससे पहले उन्होंने कहा था कि जो नेता सपना दिखाते हैं और उन्हें पूरे नहीं करते तो जनता उनकी पिटाई करती है.

मुंबई में एक किताब के विमोचन के दौरान गडकरी ने कहा था कि उन्होंने बड़े-बड़े कॉन्ट्रैक्टर को कहा कि रोड ख़राब होगा तो बुलडोज़र के नीचे तुम्हें डलवा देंगे.

शोलापुर में पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान पवार ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे पर कहा कि उनकी पार्टी मनसे के साथ गठबंधन पर कोई विचार नहीं कर रही है. ज्ञात हो कि पवार और ठाकरे दोनों बेहद क़रीबी माने जाते हैं.

न्यूज़ 18 के अनुसार, शरद पवार ने कहा, ‘राज ठाकरे की युवाओं के बीच काफी लोकप्रियता है. लेकिन चुनावों में उनकी पार्टी से गठबंधन को लेकर हमारे बीच कोई बातचीत नहीं हुई है. वे एमएनएस प्रमुख से आम जन के मुद्दों पर अक्सर चर्चा करते हैं, लेकिन चुनावों में साथ मिलकर लड़ने को लेकर कोई बात नहीं हुई है.’