भारत

दवा कंपनी ज़ाइडस हेल्थकेयर ने पुलवामा हमले पर टिप्पणी को लेकर अधिकारी को निलंबित किया

जम्मू कश्मीर के पुलवामा ज़िले में आतंकी हमले को लेकर सोशल मीडिया पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणियों के लिए उत्तर प्रदेश समेत देश के अन्य हिस्सों में गिरफ़्तारियां हुई हैं.

(फोटो: विकिपीडिया)

दवा कंपनी ज़ाइडस हेल्थकेयर. (फोटो: विकिपीडिया)

नई दिल्ली: दवा कंपनी जाइडस हेल्थकेयर ने पुलवामा आतंकी हमले को लेकर सोशल मीडिया पर राष्ट्र-विरोधी टिप्पणी करने के लिए श्रीनगर में तैनात अपने एक अधिकारी को निलंबित कर दिया है.

दरअसल जाइडस हेल्थकेयर की सब्सिडियरी कंपनी जर्मन रेमेडीज में मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव इकबाल हुसैन ने फेसबुक पर रियाज अहमद वानी नामक व्यक्ति के एक पोस्ट पर टिप्पणी करते हुए कहा था, ‘यह है असल सर्जिकल स्ट्राइक.’ वानी ने अपने पोस्ट में कहा था, ‘इसे कहते हैं सर्जिकल स्ट्राइक…’

हुसैन को लिखे पत्र में जाइडस ने कहा है कि उनकी टिप्पणी राष्ट्र-विरोधी है और उन्होंने कंपनी की छवि को नुकसान पहुंचा है.

पत्र में कहा गया है, ‘सोशल मीडिया पर आपकी उक्त राष्ट्र-विरोधी टिप्पणी से कंपनी का नाम और छवि धूमिल हुई है. साथ ही प्रबंधन को रोष भरी प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं और सवाल पूछा जा रहा है कि कंपनी में इस तरह का राष्ट्र-विरोधी व्यक्ति क्यों है.’

Zydus Pulwama 1

दवा कंपनी द्वारा आरोपी इकबाल हुसैन को लिखा गया पत्र.

उसमें कहा गया है कि उक्त कार्रवाई राष्ट्र-विरोधी है और पूरी तरह से गलत आचरण को दिखाती है.

जाइडस हेल्थकेयर ने कहा, ‘इसलिए आप उचित साक्ष्य के साथ लिखित तौर पर यह बताइए कि प्रबंधन आपकी सेवाओं को क्यों बनाए रखे. यह पत्र प्राप्त होने के 48 घंटे के अंदर अगर आपकी तरफ से स्पष्टीकरण प्राप्त नहीं होता है तो यह माना जाएगा कि आपके पास कहने को कुछ भी नहीं है. ऐसे में आपकी सेवाओं को तत्काल समाप्त कर दिया जाएगा.’

कंपनी ने कहा, ‘इस बीच तत्काल प्रभाव से आपकी सेवाओं को निलंबित किया जाता है.’

पुलवामा आतंकी हमले पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकी हमले को लेकर सोशल मीडिया पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणियों के लिए उत्तर प्रदेश में गिरफ्तारियां हुई हैं. राजधानी में बीए प्रथम वर्ष के एक छात्र को पुलिस ने आपत्तिजनक टिप्पणी के लिए गिरफ्तार किया है.

हुसैनगंज थाना प्रभारी अनिल कुमार ने बताया, ‘रजब खान श्री जय नारायण स्नातकोत्तर महाविद्यालय के छात्र हैं. उन्हें पुलिस ने कृष्णानगर इलाके से गिरफ्तार किया. रजब ने पुलवामा हमले के संबंध में आपत्तिजनक टिप्पणी सोशल मीडिया पर की थी.’

कालेज के प्रिंसिपल एसडी शर्मा ने बाद में सूचित किया कि छात्र को कालेज से निष्कासित कर दिया गया है. दूसरी ओर मउ में मोहम्मद ओसामा नामक युवक को सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट के लिए गिरफ्तार किया गया है.

मउ पुलिस ने ट्वीट कर बताया कि दक्षिणटोला थाना क्षेत्र के मदनपुरा का निवासी ओसामा ने पुलवामा आतंकी हमले पर आपत्तिजनक टिप्पणी सोशल मीडिया पर की थी. सिद्धार्थनगर जिले में पाकिस्तान समर्थक नारे लगाने और फेसबुक पर उसे पोस्ट करने के लिए एक युवक को गिरफ्तार किया गया है.

बंसी थाने के सब इंस्पेक्टर अजय सिंह ने बताया, ‘सीआरपीएफ जवानों की शहादत पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए सभा आयोजित की गई थी. वहां मोहम्मद तौफीक ने पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगाए. जब उन्हें रोका गया तो वह बदसलूकी पर उतर आए. उसने बाद में यही टिप्पणी सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी.’

इस बीच बलिया में खुद को सपा का कथित समर्थक बताने वाले एक युवक के खिलाफ सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर फिदायीन हमले के दोषी आतंकी का समर्थन करने के मामले में मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

बलिया के प्रभारी पुलिस अधीक्षक विजय पाल सिंह ने शनिवार को बताया कि फेसबुक पर स्वयं को सपा से जुड़ा बताने वाले रवि प्रकाश मौर्य ने फिदायीन हमले के दोषी आतंकी आदिल अहमद का कथित समर्थन करते हुए उन पर गर्व जताया है और अश्रु पूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की है.

उन्होंने बताया कि मौर्य फेफना थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं. मौर्य का पोस्ट आज वायरल हुआ, जिस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए उनके विरुद्ध फेफना थाने में आईटी एक्ट व भारतीय दंड संहिता की धाराओं में पुलिस ने नामजद मुकदमा दर्ज किया है और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

दूसरी ओर शाहजहांपुर जिले में सोशल मीडिया पर कथित तौर पर हिंदुस्तान मुर्दाबाद और राष्ट्रीय ध्वज को आग के हवाले करते हुए एक युवक ने फेसबुक पर पोस्ट की है, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी युवक के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया है.

नगर पुलिस अधीक्षक दिनेश त्रिपाठी ने शनिवार को बताया कि फेसबुक पर मोहम्मद फरहान खान नामक युवक ने एक पोस्ट की है जिसमें उन्होंने हिंदुस्तान मुर्दाबाद का नारा लिखा है और उन्होंने पोस्ट पर एक फोटो भी डाली है. उन्होंने बताया कि इसमें कुछ लोग राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को आग के हवाले कर रहे हैं.

त्रिपाठी ने बताया कि थाना सदर बाजार में आरोपी युवक के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया गया है और आरोपी की तलाश की जा रही है.

जैश आतंकवादी की तारीफ करने वाला कश्मीरी छात्र गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती हमला करने वाले जैश के आतंकवादी की कथित तौर पर सराहना करने वाले एक कश्मीरी छात्र को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने यह जानकरी दी.

पुलिस ने बताया कि बारामूला जिले के 23 वर्षीय ताहिर लतीफ बेंगलुरू रेवा विश्वविद्यालय के एक छात्र हैं. पुलिस ने बताया कि उन्होंने व्हाट्सएप पर लगाई जाने वाली अपनी तस्वीर में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी आदिल अहमद और शहीद जवानों के शवों की एक स्क्रीन शॉट कथित रूप से लगा रखी थी.

उन्होंने कहा कि लतीफ ने कथित तौर पर एक स्टेटस लगा रखा था जिसमें लिखा था, ‘इस बहादुर व्यक्ति को एक बड़ा सलाम. अल्लाह आपकी शहादत को स्वीकार करे और आपको जन्नत में सर्वोच्च स्थान दे. शहीद आदिल भाई.’

पुलिस ने बताया कि एक छात्र की शिकायत पर भारतीय दंड संहिता के विभिन्न धाराओं के तहत एक मामला दर्ज किया गया है.