भारत

पाकिस्तान के बाद भारत की ओर से भी समझौता एक्सप्रेस ट्रेन रद्द

भारत और पाकिस्तान के बीच यह ट्रेन सेवा 22 जुलाई 1976 को शुरू हुई थी. यह ट्रेन हफ्ते में दो दिन थी. लाहौर से सोमवार और बृहस्पतिवार को जबकि दिल्ली से बुधवार और रविवार को इस ट्रेन का संचालन होता था.

Attari: Passengers, arriving from Pakistan by Samjhauta Express train, wait for custom-check at Attari railway station, near Amritsar, Monday, Feb 25, 2019. (PTI Photo) (PTI2_25_2019_000137B)

अमृतसर में अटारी रेलवे स्टेशन पर बीते 25 फरवरी को खड़ी समझौता एक्सप्रेस ट्रेन. (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: पाकिस्तान के बाद भारतीय रेलवे ने भी अपनी सीमा में भारत-पाकिस्तान समझौता एक्सप्रेस ट्रेन के परिचालन को स्थगित करने का फैसला किया. वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार, यह निर्णय इसलिए लिया गया, क्योंकि पाकिस्तान ने अपनी ओर इस सेवा को निलंबित कर दिया है.

इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की गई. अधिकारियों का कहना है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद दोनों देशों के संबंधों में आए तनाव और इसके बाद के घटनाक्रमों को लेकर पाकिस्तान अपने यहां से समझौता एक्सप्रेस के परिचालन को पहले ही बंद कर चुका है.

पाकिस्तान की ओर से उठाए गए इस क़दम के बाद बीते 28 फरवरी को रात आठ बजे दिल्ली से अटारी के लिए जो ट्रेन रवाना होने वाली थी, उसे भी रद्द कर दिया गया.

आदेश के अनुसार रेलवे बोर्ड ने अटारी स्पेशल एक्सप्रेस, दिल्ली-अटारी-दिल्ली, जो वाघा-लाहौर लिंक के साथ मिलकर समझौता या फ्रेंडशिप एक्सप्रेस नाम से जानी जाती है, के सभी परिचालनों को भी उसके अगले फेरे के दिन रविवार से रद्द कर दिया है.

रेलवे के सूत्रों के अनुसार, ‘पाकिस्तान से कोई यात्री नहीं होने के चलते इस तरफ इसे चलाने का कोई तुक नहीं है. आशा है कि तनाव घट जाने के बाद इस सेवा को बहाल कर दिया जाएगा.’

सूत्रों के अनुसार समझा जाता है कि दोनों देशों के करीब 40 यात्री अटारी में फंसे हुए हैं. पाकिस्तान ने बीते 27 फरवरी को अपनी ओर वाघा-लाहौर रेल मार्ग पर ट्रेन के फेरे रद्द कर दिए थे जबकि 27 यात्री भारतीय ट्रेन से पुरानी दिल्ली से अटारी पहुंचे थे. उनमें 24 भारतीय यात्री और तीन पाकिस्तानी यात्री थे. यह ट्रेन 27 फरवरी की रात 11 बजकर 20 मिनट पर नई दिल्ली से रवाना हुई थी.

अधिकारियों के अनुसार, वाघा स्टेशन मास्टर ने अपने अटारी समकक्ष को संदेश भेजा कि यात्री और पार्सल ट्रेन जो पाकिस्तान की तरफ से अटारी तक आती है, अगले आदेश तक नहीं आएगी.

इससे एक दिन पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा था कि पाकिस्तान और भारत के बीच वर्तमान स्थिति के मद्देनज़र ट्रेन परिचालन 28 फरवरी को स्थगित कर दिया गया.

मालूम हो कि भारत और पाकिस्तान के बीच यह ट्रेन सेवा 22 जुलाई 1976 को शुरू हुई थी. यह ट्रेन हफ्ते में दो दिन थी. लाहौर से सोमवार और बृहस्पतिवार को जबकि दिल्ली से बुधवार और रविवार को यह ट्रेन का संचालन होता था. इसमें छह स्लीपर कोच और एक एसी-3 टियर कोच होता है.