भारत

यूपी: टीवी डिबेट में मोदी सरकार की आलोचना पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने मुस्लिम युवक को पीटा

सोशल मीडिया पर सामने आए मुजफ़्फ़रनगर के एक वीडियो में एक युवक युवाओं को रोजगार मुहैया कराने में मौजूदा सरकार को विफल बता रहा होता है लेकिन कथित तौर पर भाजपा-शिवसेना के कार्यकर्ता बीच में ही रोककर उसके साथ मार-पिटाई शुरू कर देते हैं.

अदनान.

अदनान.

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मुजफ़्फरनगर जिले में एक समाचार चैनल के लिए डिबेट शो की रिकॉर्डिंग के दौरान सरकार की आलोचना करने पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने एक युवक की पिटाई कर दी. इस घटना का एक वीडियो बुधवार को सोशल मीडिया पर सामने आया.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, युवक की पहचान अदनान के रूप में की गई है.

एक निजी समाचार चैनल के पत्रकार ‘माहौल बनाए रखिए’ कार्यक्रम की शूटिंग कर रहे थे.

शो की एंकरिंग कर रहे पत्रकार नरेंद्र प्रताप ने कहा, ‘हम एक पार्क में गए जहां पर पास के इलाके के बहुत ढेर सारे युवा जुटे हुए थे. हम मौजूदा सरकार के कामकाज के बारे में सामान्य तौर पर लोगों के विचार ले रहे थे. इसमें किसानों के संकट से लेकर कानून एवं व्यवस्था से जुड़े सवाल शामिल थे.’

उन्होंने कहा, ‘इस दौरान जब भी कोई सरकार के विपक्ष में कहता तो वहां पर मौजूद भाजपा कार्यकर्ता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत माता की जय के नारे लगाने लगते. जब इस खास शख्स को देखा तो उन्होंने उस पर अपना गुस्सा निकाल दिया. इस दौरान वहां मौजूद राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) के कार्यकर्ताओं की भी झड़प होती है.’

घटना का जो वीडियो सामने आया है उसमें अदनान युवाओं को रोजगार मुहैया कराने में मौजूदा सरकार को विफल बताता हुआ दिख रहा है. हालांकि इस दौरान उसकी बात से असंतुष्ट भाजपा कार्यकर्ता उसे बीच में रोक देते हैं और उसके साथ मारपीट करने लगते हैं.

प्रताप ने कहा, ‘हालात को नियंत्रण में लाने में कुछ समय लगता है. उसे बुरी तरह पीटा गया था. ऐसा लगता है कि वह पुलिस में शिकायत दर्ज कराने से डरता है.’

इस मामले पर मुजफ़्फ़रनगर के अपर पुलिस अधीक्षक सतपाल ने कहा, ‘हमें युवक से कोई शिकायत नहीं मिली है. इंटरनेट पर कई अपुष्ट वीडियो चल रहे हैं. अगर कोई अन्य जानकारी सामने आती है तो कार्रवाई की जाएगी.’

अदनान ने कहा, ‘मुझे पता चला कि यहां कोई इंटरव्यू चल रहा है तो सोचा मैं भी देख लेता हूं. एक सवाल के जवाब में जब मैंने कहा कि यहां कोई काम नहीं हो रहा है और भाजपा के खिलाफ कुछ बातें कहीं तो वे लोग मुझे आतंकवादी बताने लगे और कहने लगे कि तुम भाजपा के खिलाफ हो.’

उसने कहा, ‘मैंने कहा कि मैं आतंकवादी क्यों होऊंगा, तुम आतंकवादी हो. इसी बात पर वे मुझे मारने लगे. मुझे मारने में भाजपा और शिवसेना के लोग शामिल थे. पुलिस अभी तक नहीं आई है. मैं चाहता हूं कि उन पर कार्रवाई हो. मैं मुस्लिम समाज से हूं इसलिए मेरे साथ मारपीट हुई.’