भारत

लोकसभा चुनाव: तृणमूल कांग्रेस ने जारी की सभी 42 उम्मीदवारों की सूची, 41 फीसदी महिला उम्मीदवार

तृणमूल कांग्रेस ने इस बार लोकसभा चुनाव में 17 सीटों पर महिलाओं को मैदान में उतारा है. इसके साथ ही 10 मौजूदा सांसदों को टिकट नहीं दिया गया है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फोटो: पीटीआई)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फोटो: पीटीआई)

नई दिल्लीः पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने मंगलवार को राज्य में लोकसभा की सभी 42 सीटों के लिए पार्टी के उम्मीदवारों की सूची जारी की.

इस सूची से 10 मौजूदा सांसदों का नाम काट दिए गए हैं जबकि इस बार पार्टी ने 41 फीसदी महिलाओं को टिकट दिया है. राज्य की 42 में से 17 सीटों पर महिलाओं को चुनावी मैदान में उतारा जाएगा.

ओडिशा में बीजू जनता दल (बीजद) द्वारा 33 फीसदी लोकसभा सीटें महिलाओं को आवंटित करने के ऐलान के दो दिन बाद तृणमूल कांग्रेस ने यह घोषणा की है.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, ममता ने कहा, ‘हम महिला सशक्तीकरण में विश्वास करते हैं. 2014 में पार्टी की 35 फीसदी सांसद महिलाएं थीं. मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि इस बार हमारी 41 फीसदी लोकसभा उम्मीदवार महिलाएं हैं.’

तृणमूल ने जिन महिलाओं को उम्मीदवार बनाया है, उनमें काकोली घोष दस्तीदार, महुआ मोइत्रा और फिल्म स्टार मिमी चक्रबर्ती और नुसरत जहां हैं. इस सूची में पूर्व रेल मंत्री दिवंगत एबीए गनी खान चौधरी की भतीजी मौसम नूर भी हैं. नूर हाल ही में कांग्रेस से तृणमूल में शामिल हुई हैं.

हालांकि, सूची में टीएमसी के कई प्रमुख चेहरों मसलन अखिल भारत महासचिव सुब्रता बख्शी, हार्वर्ड प्रोफेसर सुगाता बोस, अल्पसंख्यक चेहरों में प्रमुख इदरीस अली, अभिनेत्री संध्या रॉय और उमा सोरेन को टिकट नहीं दिया गया है. इन सभी ने  2014 के लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी.

पार्टी के दिग्गज नेता और सांसद सुदीप बंदोपाध्याय, कल्याण बनर्जी और सौगत रॉय अपनी-अपनी पारंपरिक सीटों कोलकाता उत्तर, सिरमपोर और दम दम से चुनाव लड़ेंगे. वहीं ममता बनर्जी के भतीजे और पार्टी के युवा नेता अभिषेक बनर्जी डायमंड हार्बर से चुनाव लड़ेंगे, वह 2014 में भी इस सीट से जीते थे.

ममता ने भाजपा और मोदी सरकार पर हमला करते हुए दावा किया कि उनके पास ऐसी सूचनाएं हैं कि ‘वीवीआईपी’ मतदाताओं को घूस देने के लिए हेलिकॉप्टरों और चार्टर्ड विमानों के जरिए धन पहुंचा रहे हैं .

ममता बनर्जी ने सूची जारी करते हुए राफेल सौदे, कृषि संकट और रोजगार के घटते अवसरों सहित विभिन्न मुद्दों पर केंद्र पर हमला किया.

तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो बनर्जी का कहना है कि इस सूची में पार्टी के जिन सांसदों के नाम नहीं हैं, उन्हें पार्टी के काम में लगाया जाएगा.

उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस ओडिशा, असम, झारखंड, बिहार और अंडमान में कुछ सीटों पर चुनाव लड़ेगी .

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)