भारत

टिकटों से मोदी की तस्वीर नहीं हटाने पर रेल और उड्डयन मंत्रालय को चुनाव आयोग का नोटिस

चुनाव आयोग ने सख़्त लहजे में कहा है कि यह आचार संहिता का उल्लंघन है. खत लिखकर जवाब मांगा है कि क्यों आदर्श चुनाव आचार संहिता के लागू होने के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर रेल टिकटों तथा एयर इंडिया के बोर्डिंग पास से नहीं हटाई गई.

The Prime Minister, Shri Narendra Modi departs for Japan after a brief stopover, in Bangkok, Thailand on November 09, 2016.

(फोटो साभार: पीआईबी)

नई दिल्ली: चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद भी रेल और हवाई यात्रा टिकट पर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर नहीं हटाने पर चुनाव आयोग ने रेल और नागरिक उड्डयन मंत्रालय को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है.

सूत्रों के अनुसार, आयोग ने रेल टिकट और हवाई यात्रा के बोर्डिंग पास पर मोदी की तस्वीर को आचार संहिता का प्रथम दृष्ट्या उल्लंघन मानते हुए रेल और नागरिक उड्डयन मंत्रालय को नोटिस जारी किया है.

गौरतलब है कि आयोग द्वारा 17वीं लोकसभा के चुनाव का कार्यक्रम 10 मार्च को घोषित किए जाने के साथ ही पूरे देश में चुनाव आचार संहिता लागू हो गई थी. लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से 19 मई तक सात चरण में होने हैं.

आयोग ने आचार संहिता के सातवें उपबंध के तहत दोनों मंत्रालयों से जवाब मांगा है. इसके तहत आचार संहिता लागू होने के बाद सरकार जनता के पैसे से किसी भी माध्यम में अपनी उपलब्धियों का जिक्र करने वाले विज्ञापन जारी नहीं कर सकती है.

विभिन्न दलों और व्यक्तियों की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने यह कार्रवाई की है.

हालांकि रेल मंत्रालय ने इस शिकायत पर कार्रवाई करते हुए अपने सभी ज़ोन को रेल टिकट से मोदी की तस्वीर हटाने का आदेश पिछले सप्ताह ही जारी कर दिया था, लेकिन अब तक इस पर अमल नहीं होने की शिकायत पर आयोग ने रेल मंत्रालय को नोटिस जारी किया है.

इसी प्रकार पंजाब के एक पूर्व पुलिस अधिकारी ने हवाई यात्रा टिकट पर मोदी और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की तस्वीर होने की जानकारी ट्विटर के माध्यम से दी थी.

टिकट पर पीएम मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल करने को लेकर रेलवे और उड्डयन मंत्रालय को चुनाव आयोग ने नोटिस जारी किया है.

चुनाव आयोग ने सख्त लहजे में कहा है कि यह आचार संहिता का उल्लंघन है. चुनाव आयोग ने रेल मंत्रालय तथा नागरिक उड्डयन मंत्रालय को खत लिखकर जवाब मांगा है कि क्यों आदर्श चुनाव आचार संहिता के लागू होने के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर रेल टिकटों तथा एयर इंडिया के बोर्डिंग पास से नहीं हटाई गई.

दोनों मंत्रालयों से तीन दिन में जवाब दाखिल करने के लिए कहा गया है.