भारत

भाजपा समर्थक फेसबुक पेजों ने दो हफ्ते में प्रचार पर ख़र्च किए डेढ़ करोड़ रुपये- रिपोर्ट

फैक्ट चेक वेबसाइट ऑल्ट न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, दो सप्ताह के भीतर विज्ञापनों पर खर्च करने में शीर्ष 20 फेसबुक पेजों का योगदान 1.9 करोड़ रुपये से ज्यादा का है.

Kanyakumari: Workers place a huge portrait of Prime Minister Narendra Modi along a road ahead of his rally, in Kanyakumari, Thursday, Feb. 28, 2019. (PTI Photo)(PTI2_28_2019_000137B)

(फोटो: पीटीआई)

नई दिल्ली: फेसबुक या इंस्टाग्राम पर चलाए गए राजनीतिक और सरकारी विज्ञापनों पर दो सप्ताहों में 2.5 करोड़ रुपये खर्च किए गए. विज्ञापनों पर निवेश करने के मामले में 20 फेसबुक पेज शीर्ष पर रहे.

फैक्ट चेक वेबसाइट ऑल्ट न्यूज़ के ‘फेसबुक वीकली एड लाइब्रेरी डेटा’ के रिपोर्ट के मुताबिक दो सप्ताह के भीतर विज्ञापनों पर निवेश करने में शीर्ष 20 फेसबुक पेजों का योगदान 1.9 करोड़ रुपये से ज्यादा का है. इसमें भी भाजपा समर्थक पेजों ने ही 1.5 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किया है.

दूसरे नंबर पर बीजद समर्थक विज्ञापन हैं, जिसका खर्च 15.2 लाख रुपये है. उसके बाद वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (आंध्र प्रदेश) 12.7 लाख रुपये का रहा.

तीसरे नंबर पर कर्नाटक सरकार के विज्ञापन 5 लाख रुपये और कांग्रेस समर्थक पेज 1.68 लाख रुपये है.

रिपोर्ट के मुताबिक सबसे ज्यादा खर्च करने वालों में भाजपा के चुनाव अभियान ‘भारत के मन की बात’ को समर्पित फेसबुक पेज ने 87.3 लाख रुपये का निवेश किया है. दूसरे नंबर में 43 लाख से ज्यादा के खर्च के साथ भाजपा का ही पेज ‘नेशन विद नमो’ रहा.

(फोटो साभार: ऑल्ट न्यूज)

(फोटो साभार: ऑल्ट न्यूज)

रिपोर्ट में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक 2 से 16 मार्च के बीच 15.2 लाख रुपये विज्ञापन पर खर्च किया और तीसरे स्थान रहा.

चौंथे स्थान पर वाईएसआर कांग्रेस समर्थक विज्ञापनों के लिए 13 लाख रुपये खर्च करते हुए ‘इंडियन पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (आईपीएसी)’ रहा. ये आंकड़ा इनके दो सप्ताह पहले विज्ञापनों पर किए गए खर्चे से 53,992 रुपये ज्यादा है. आईपीएसी एक राजनीतिक समर्थक समूह है जो चुनाव अभियानों के लिए रणनीति देता है.

पांचवें नंबर पर केंद्र सरकार का पेज ‘माइ गवर्नमेंट इंडिया’ रहा जिसने विज्ञापनों पर 8.3 लाख रुपये से अधिक खर्च किए गए.

‘मेरा पहला वोट मोदी के लिए’ शीर्ष 20 विज्ञापनदाताओं में छठवें स्थान पर रहा. उसने केवल दो सप्ताह में 7.6 लाख रुपये खर्च किए. इससे पहले 2 मार्च तक उसका विज्ञापनों पर खर्च सिर्फ 11,000 रुपये से थोड़ा ज्यादा था.

रिपोर्ट के मुताबिक ‘माई फर्स्ट वोट फॉर मोदी’ नामक फेसबुक पेज को हाल ही में विकसित किया गया है. इसे इसी साल के जनवरी महीने में बनाया गया था और इसके फॉलोवर्स 45,000 हैं.

इसके बावजूद इस पेज ने भाजपा के आधिकारिक पेज की तुलना में राजनीतिक विज्ञापनों पर अधिक निवेश किया है. भाजपा के अधिकारिक फेसबुक पेज ने 2 मार्च तक राजनीतिक विज्ञापनों पर 6.6 लाख रुपये खर्च किए और 16 मार्च तक इसी आंकड़ा पर स्थिर रहा.

(फोटो साभार: ऑल्ट न्यूज)

(फोटो साभार: ऑल्ट न्यूज)

इसके जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वोट देने के लिए आकर्षक उपहारों के साथ मतदाताओं को लुभाया जाता है. पेज द्वारा दिए जाने उपहारों में बैग, टी-शर्ट, फोन कवर, कैप आदि हैं. ‘बेहतर भारत के लिए प्रधानमंत्री मोदी को अपना वोट दें और आकर्षक उपहार जीतें’ जैसे विज्ञापनों के जरिए लोगों को लुभाया जाता है.

आल्ट न्यूज़ के पड़ताल में पाया गया कि ‘माई फर्स्ट वोट फॉर मोदी’ और ‘नेशन विद नमो’ भाजपा समर्थक पेज हैं लेकिन भाजपा ने इन पेजों को आधिकारिक तौर पर घोषित नहीं किया है. फरवरी 2019 के बाद दोनों पेजों का संयुक्त निवेश करीब 1.8 करोड़ रुपये का है.