राजनीति

कांग्रेस के नेता कान खोलकर सुन लें, हिंदू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता: नरेंद्र मोदी

महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन के लिए चुनाव प्रचार की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सवाल उठाया कि हज़ारों साल के इतिहास में क्या एक भी उदाहरण है, जहां हिंदू आतंकवाद में शामिल रहे हों?

Wardha: Prime Minister Narendra Modi gestures as he speaks during an election rally, ahead of the Lok Sabha polls, in Wardha, Monday, April 01, 2019. (PTI Photo)(PTI4_1_2019_000071B)

महाराष्ट्र के वर्धा शहर में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक सभा को संबोधित किया. (फोटो: पीटीआई)

वर्धा: हिंदू आतंकवाद की शब्दावली को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को विपक्षी दल पर आरोप लगाया कि वह धर्म के शांतिप्रिय अनुयायियों को आतंकवाद से जोड़कर उनका अपमान कर रही है.

महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन के लिए वर्धा शहर से चुनाव प्रचार की शुरुआत करते हुए एक जनसभा में मोदी ने कहा कि हिंदू अब जाग चुका है और विपक्षी दल को दंडित करने का निर्णय लिया है.

मोदी ने कहा, ‘उस पार्टी (कांग्रेस) के नेता अब बहुसंख्यक (हिंदू) आबादी वाली सीटों से चुनाव लड़ने से डर रहे हैं.’ हालांकि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष का नाम नहीं लिया लेकिन माना जा रहा है कि उनका निशाना राहुल गांधी पर था. गांधी अपनी परंपरागत सीट अमेठी (उत्तर प्रदेश) के अलावा केरल के वायनाड से भी चुनाव लड़ रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस ने ‘हिंदू आतंकवाद’ शब्द का प्रयोग कर देश के करोड़ों लोगों को कलंकित करने का प्रयास किया. आप बताएं, क्या आपको दुख नहीं हुआ था, जब आपने हिंदू आतंकवाद शब्द सुना था? हज़ारों साल के इतिहास में क्या एक भी उदाहरण है जहां हिंदू आतंकवाद में शामिल रहे हों?’

मोदी ने लोगों से सवाल किया कि क्या वह शांतिप्रिय हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ने का पाप करने वाली कांग्रेस को माफ़ कर देंगे.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को भलीभांति पता है कि देश ने उसे दंडित करने का निर्णय लिया है.

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस के नेता कान खोलकर सुन लें, हिंदू कभी आतंकवादी नहीं हो सकता. हिंदू आतंकवाद का झूठ फैलाने का पाप कांग्रेस ने किया है और अब इतना डर लगने लगा है कि सीट बदलनी पड़ी है. यह डर अच्छा है. कांग्रेस की पराजय पक्की है.’

मोदी ने कहा, ‘कुछ नेता चुनाव लड़ने से ही डर रहे हैं. उसने (कांग्रेस) जिन्हें आतंकवादी बताया था, अब वह जाग गए हैं.’

उन्होंने कहा, ‘उन्होंने शांतिप्रिय हिंदुओं को आतंकवाद से जोड़ा… अब वह बहुसंख्यक आबादी वाले क्षेत्रों से चुनाव लड़ने में डर रहे हैं… अब वहां जा रहे हैं जहां बहुतायत में आबादी अल्पसंख्यक है.’

राकांपा नेता शरद पवार पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, ‘हवा के उल्टे रुख़ को भांप कर वह चुनाव नहीं लड़ रहे हैं.’

उन्होंने दावा किया कि राकांपा की बागडोर पवार के हाथों से फिसल रही है और वह पारिवारिक कलह में उलझे हुए हैं. पवार अपने ही भतीजे अजीत पवार के हाथों ‘हिट विकेट’ हो रहे हैं.

उन्होंने पुलवामा आतंकवादी हमले और बालाकोट हवाई हमले को लेकर कांग्रेस तथा राकांपा पर सैनिकों के साहस पर सवाल उठाने और उनका अपमान करने का आरोप भी लगाया.

मोदी ने कहा कि एक वक़्त में पवार सोचते थे कि वह भारत के प्रधानमंत्री बन सकते हैं, लेकिन अब हालात को देखते हुए चुनाव तक नहीं लड़ रहे.

उन्होंने कहा, ‘शरद पवार जी को भी पता है कि हवा किस तरफ़ बह रही है. इस बार जनता ने बड़े-बड़े तोपचियों को मैदान छोड़ने पर मजबूर कर दिया है.’

उन्होंने पवार पर किसानों की समस्याओं को नज़रअंदाज़ करने का आरोप लगाया.

‘शौचालयों के चौकीदार’ वाली टिप्पणी पर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘आपकी गालियां मेरे लिए गहने के समान हैं.’

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को एमीसैट उपग्रह के सफल प्रक्षेपण पर इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई दी. वर्धा में चुनावी रैली में उन्होंने कहा कि यह प्रक्षेपण इसरो के लिए ऐतिहासिक पल है.

सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से उड़ान भरने के बाद पीएसएलवी ने भारत के एमीसैट उपग्रह और 28 विदेशी नैनो उपग्रहों को सोमवार को सफलतापूर्वक उनकी कक्षा में स्थापित किया.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)