राजनीति

उत्तर प्रदेश: ज़िलाधिकारी और तहसीलदार से बदसलूकी करने के आरोप में भाजपा नेता गिरफ़्तार

उत्तर प्रदेश में बलिया के ज़िलाधिकारी ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली थी कि भाजपा नेता विनोद तिवारी मतदाताओं को धमका रहे हैं. भाजपा नेता ने भी आरोप लगाया कि ज़िलाधिकारी और तहसीलदार ने उनके साथ अभद्रता की और मारपीट की कोशिश की.

Vinod-Tiwari-ANI

भाजपा नेता विनोद तिवारी (फोटोः एएनआई)

उत्तर प्रदेशः उत्तर प्रदेश के बलिया में ज़िलाधिकारी और तहसीलदार से बदसलूकी करने के आरोप में भाजपा के एक नेता को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ ने मंगलवार को बताया कि बलिया में  ज़िलाधिकारी कार्यालय में  ज़िलाधिकारी डॉ. भवानी सिंह खंगारौत और तहसीलदार गुलाब चंद के साथ दुर्व्यवहार करने के मामले में सोमवार को भाजपा के स्थानीय नेता विनोद तिवारी को गिरफ्तार किया गया.

उन्होंने कहा कि स्थानीय नेता विनोद तिवारी अपने कई साथियों के साथ ज़िलाधिकारी कार्यालय पहुंचे और ज़िलाधिकारी के साथ बदसलूकी की. मौके पर बलिया के तहसीलदार गुलाब चंद पहुंचे तो उनके साथ भी हाथापाई और बदसलूकी की गई.

ज़िलाधिकारी खंगारौत ने बताया कि उन्हें जानकारी मिली थी कि विनोद तिवारी मतदाताओं को धमका रहे हैं. पकड़ी थाने से पता करने पर जानकारी मिली की तिवारी के खिलाफ 12 मुकदमे दर्ज हैं. उनकी ग्राम प्रधान पत्नी के ख़िलाफ भी वित्तीय अनियमितता के मामले में कार्रवाई लंबित है.

खंगारौत ने बताया कि विनोद तिवारी कल उनके कार्यालय आए थे और उनको अपने पक्ष में करने की कोशिश की थी. इसके बाद भावावेश में आकर धौंस जमाने वाली बातें की और उनके साथ अभद्रता की.

तहसीलदार गुलाब चंद ने बताया कि तिवारी और उसके साथियों ने उनके साथ हाथापाई की और बंधक बनाने की कोशिश करने के साथ जान से मारने की धमकी भी दी.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि तहसीलदार की शिकायत पर बलिया शहर कोतवाली में विनोद तिवारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

विनोद तिवारी ने संवाददाताओं से बातचीत में खुद को भाजपा की जिला कार्यसमिति का सदस्य बताया और कहा कि वह ज़िलाधिकारी कार्यालय के एक कर्मचारी के फोन कर बुलाने पर ज़िलाधिकारी से मिलने गये थे.

तिवारी ने भी आरोप लगाया कि ज़िलाधिकारी और तहसीलदार ने उनके साथ अभद्रता की और मारपीट की कोशिश की.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)