भारत

भाजपा विधायक ने कहा, नवरात्रि में मीट की दुकानें खोलना राष्ट्रद्रोह

ग़ाज़ियाबाद में लोनी से विधायक नंद किशोर गुर्जर का कहना है कि लोनी में मंदिरों के पास मीट की दुकानें खुली हुई हैं. यह गैरकानूनी है और राष्ट्रद्रोह की श्रेणी में आता है.

Nandkishore-Gurjar-Facebook

भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर (फोटोः फेसबुक)

गाजियाबादः गाजियाबाद के लोनी से भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने शनिवार रात को मंदिरों के पास मीट की दुकानें जबरन बंद कराई.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा विधायक ने कहा कि मीट की दुकानें खोलना राष्ट्रद्रोह है.

विधायक ने कहा, ‘लोनी में मंदिरों के पास मीट की दुकानें खुली हुई हैं. यह गैरकानूनी है और राष्ट्रद्रोह की श्रेणी में आता है. स्थानीय अधिकारियों की मिलीभगत के बगैर यह संभव नहीं है.’

विधायक का कहना है, ‘नवरात्र के दौरान मीट की दुकान खोलना राष्ट्रद्रोह है. अगर इस दौरान कोई मीट की दुकान खोलता है तो यह राष्ट्रीय सुरक्षा का उल्लंघन है और इसे राष्ट्रद्रोह माना जाएगा.’

गाजियाबाद के एसएसपी यूके अग्रवाल का कहना है कि उन्हें इस बारे में अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली है.

सूत्रों का कहना है कि मीट की दुकानों और बूचड़खानों के लिए 2017 के बाद लाइसेंस को नियमित कर दिया गया था और इस दौरान लोनी में मीट की दुकानें खोलने को लेकर कोई समस्या नहीं हुई.

2017 में उत्तर प्रदेश सरकार ने दिशानिर्देश जारी करते हुए कहा था कि धार्मिक स्थानों के 50 मीटर के दायरे में मीट की दुकानों को खुलने की मंजूरी नहीं दी जा सकती.

गुर्जर ने कहा, ‘नवरात्रि शुरू हो गई हैं और इस तरह मांस बेचना पूरी तरह से गलत है. अगर कल को क्षेत्र में इस वजह से तनाव हो गया तो इसका जिम्मेदार कौन होगा?’

उन्होंने कहा, ‘मैंने उनसे निवेदन किया और कहा है ये सब ठीक नहीं है. वैसे तो मैं किसी से अनुरोध नहीं करता. मैंने कहा ये सब ठीक है और उन्होंने बंद कर दी.’

गाजियाबाद के मीडिया प्रभारी प्रदीप चौधरी ने कहा कि वह इस घटना से वाकिफ नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘अगर विधायक ने ऐसा किया है तो यह जरूर उनके एजेंडे में होगा. हम इससे वाकिफ नहीं हैं.’