भारत

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 91 सीटों पर मतदान शुरू

पहले चरण में आंध्र प्रदेश की 175, सिक्किम की 32 और ओडिशा की 28 विधानसभा सीटों पर भी मतदान हो रहा है. पहले चरण के मतदान में केंद्रीय मंत्री वीके सिंह, नितिन गडकरी, हंसराज अहीर, किरण रिजीजू, कांग्रेस की रेणुका चौधरी, एआईएमआईएम के असदउद्दीन ओवैसी जैसे प्रमुख नेताओं की राजनीतिक किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी.

मणिपुर के इंफाल में मतदान करने के लिए मतदान केंद्र के बाहर खड़े लोग. (फोटो साभार: एएनआई)

मणिपुर के इंफाल में मतदान करने के लिए मतदान केंद्र के बाहर खड़े लोग. (फोटो साभार: एएनआई)

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों और चार राज्यों की विधानसभा सीटों पर गुरुवार सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया. 91 लोकसभा सीटों पर कुल 1279 उम्मीदवार मैदान में हैं.

पहले चरण के मतदान में जिन प्रमुख नेताओं की राजनीतिक किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी उनमें केंद्रीय मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह, नितिन गडकरी, हंसराज अहीर, किरण रिजीजू, कांग्रेस की रेणुका चौधरी, एआईएमआईएम के असदउद्दीन ओवैसी शामिल हैं.

इस चरण में रालोद प्रमुख अजीत सिंह का मुकाबला उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर सीट पर भाजपा के संजीव बालियान से है जबकि उनके बेटे जयंत चौधरी बागपत सीट पर केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह को चुनौती दे रहे हैं. लोजपा प्रमुख एवं केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के पुत्र एवं सांसद चिराग पासवान बिहार में जमुई सीट से उम्मीदवार हैं.

छत्तीसगढ़ की नक्सली हिंसा प्रभावित बस्तर सीट पर भी आज मतदान हो रहा है. चुनाव का विरोध कर रहे नक्सलियों ने बस्तर के दंतेवाड़ा क्षेत्र में मंगलवार को बारूदी सुरंग विस्फोट कर हमला किया था.

इसमें दंतेवाड़ा के भाजपा विधायक की मौत हो गई और अर्धसैनिक बल के पांच जवान शहीद हो गये थे. हमले के मद्देनजर चुनाव स्थगित करने की आशंकाओं को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया था.

पहले चरण में आंध्र प्रदेश, सिक्किम और ओडिशा में विधानसभा चुनाव भी हो रहा है. इस दौरान आंध्र प्रदेश की 175, सिक्किम की 32 और ओडिशा की 28 विधानसभा सीटों पर मतदान हो रहा है.

आंध्र प्रदेश से अलग होकर 2014 में तेलंगाना राज्य की स्थापना होने के बाद आंध्र प्रदेश में पहली बार विधानसभा चुनाव हो रहा है. राज्य की सभी 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटों पर पहले चरण में आज ही मतदान संपन्न हो जायेगा.

उल्लेखनीय है कि 11 अप्रैल को होने वाले मतदान के लिए मंगलवार शाम चुनाव प्रचार थम गया था. पहले चरण में मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ. कुछ सीटों पर शाम चार बजे तक, कुछ पर पांच बजे तक और कुछ जगह शाम छह बजे तक मतदान होगा.

निर्वाचन नियमों के अनुसार मतदान खत्म होने के समय से 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार थम जाता है. ज्ञात हो कि 17वीं लोकसभा के गठन के लिये 543 सीटों के लिये सात चरण में 11 अप्रैल से 19 मई तक मतदान होना है.

पहले चरण में आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, उत्तराखंड, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम और तेलंगाना की सभी लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है.

इसके अलावा उत्तर प्रदेश की आठ लोकसभा सीटों (सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद और नोएडा) और बिहार की चार सीटों (औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई), असम की पांच, महाराष्ट्र की सात, ओडिशा की चार और पश्चिम बंगाल की दो सीटों के लिए मतदान हो रहा है.

बता दें कि लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में पश्चिमी यूपी की आठ सीटों पर मतदान शुरू हो चुका है. राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल वेंकटेश्वर लू ने बताया कि इस चरण में सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद और गौतम बुद्ध नगर सीटों के लिए मतदान हो रहा है.

पहले चरण में लगभग डेढ करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. इनमें 82, 24, 000 पुरुष तथा 68, 39, 000 महिलाएं शामिल हैं.

इस चरण के लिए कुल 6716 मतदान केंद्र और 16581 मतदेय स्थल बनाए गए हैं. उन्होंने बताया कि स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गये हैं.

पहले चरण के चुनाव में केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह (गाजियाबाद) तथा महेश शर्मा (गौतम बुद्ध नगर) के साथ साथ रालोद प्रमुख अजित सिंह (मुजफ्फरनगर) और उनके बेटे जयंत चौधरी (बागपत) समेत कई दिग्गजों की किस्मत दांव पर लगी है.

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शुरू हुए मतदान में प्रारंभ से ही लोगों का जोशो-खरोश देखने को मिल रहा है. मतदान शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा है. वोट शाम छह बजे तक पड़ेंगे.