भारत

साक्षी महाराज ने कहा- संन्यासी हूं वोट नहीं दिया, तो अपने पाप दे जाऊंगा

साक्षी महाराज ने कहा कि अगर एक संन्यासी की बात नहीं मानी जाती तो वह गृहस्थी के पुण्य ले जाता है और अपने पाप दे जाता है.

Sakshi-Maharaj-PTI copy

साक्षी महाराज (फोटोः पीटीआई)

उन्नावः भाजपा सांसद और उन्नाव से लोकसभा उम्‍मीदवार साक्षी महाराज ने शुक्रवार को कहा कि अगर लोग उन्हें वोट नहीं देंगे तो वह अपने पाप उन्हें दे जाएंगे.

साक्षी महाराज ने एक चुनावी जनसभा में कहा, ‘मैं संन्यासी हूं. आप जिताओगे तो काम करूंगा, नहीं तो मंदिर में जाकर भजन कीर्तन करूंगा.’

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में साक्षी महाराज को कहते सुना जा सकता है, ‘एक संन्यासी आपके दरवाजे पर आया है और एक संन्यासी जब किसी के दरवाजे पर आता है, भिक्षा मांगता है, कोई बात याचना करता है, अगर उसकी बात नहीं मानी जाती है तो संन्यासी गृहस्थी के पुण्य ले जाता है और अपने पाप दे जाता है.’

आगे कहते हैं, ‘शास्त्र में लिखा है. शास्त्रों की बात कर रहा हूं इसलिए कोई दौलत मांगने के लिए नहीं आया हूं. जमीन जायदाद मांगन के लिए नहीं आया हूं. कुछ और वस्तु पदार्थ मांगने के लिए नहीं आया हूं.’

उन्‍होंने कहा कि आप अपनी कन्‍या का दान करते हैं तो बहुत सोच समझकर करते हैं क्‍योंकि इससे कन्‍या का भविष्‍य जुड़ा रहता है. इसी तरह आपके वोट से भी सवा सौ करोड़ देश वासियों का भविष्‍य जुड़ा हुआ है इसलिए बहुत सोच समझ कर फैसला लेना.

साक्षी माहराज सोहरामऊ थानाक्षेत्र के शेषपुर गांव में रामेश्‍वर बाबा मंदिर पर जनसभा को संबोधित कर रहे थे.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, साक्षी महाराज ने इस विवादित बयान पर सफाई देते हुए कहा, ‘ऐसा कुछ मैंने नहीं बोला है. मैंने कहीं और से भी सुना, पता नहीं टीवी पर क्या आ रहा है. मैं अपने चुनाव में लगा हूं. ऐसा कुछ मैंने नहीं बोला.’

सिटी मजिस्‍ट्रेट राकेश कुमार गुप्‍ता ने बताया कि साक्षी महराज के बयान को गंभीरता से लेते हुए उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 171सी (चुनाव के दौरान मतदाताओं को प्रभावित करने) और जनप्रतिनिधि अधिनियम 1951 की संबद्ध धाराओं के तहत सोहरामऊ थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है .

बता दें कि उन्नाव में 29 अप्रैल को चौथे चरण के तहत मतदान होना है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)