राजनीति

भाजपा ने मालेगांव धमाके की आरोपी साध्वी प्रज्ञा को भोपाल से​ दिग्विजय सिंह के ख़िलाफ़ उतारा

महाराष्ट्र के मालेगांव में साल 2008 में हुए बम विस्फोट में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर एक आरोपी हैं. वह फिलहाल ज़मानत पर बाहर हैं.

Sadhvi Pragya PTI 1

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर (फोटोः पीटीआई)

भोपाल: 2008 मालेगांव बम विस्फोट मामले में आरोपी रहीं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बुधवार को आधिकारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गईं. भाजपा में शामिल होने के बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा, ‘मैं आज औपचारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गई हूं. मैं चुनाव लड़ूंगी और जीतूंगी.’

भाजपा ने साध्वी प्रज्ञा को मध्य प्रदेश के भोपाल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए टिकट दिया है. इस सीट पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह कांग्रेस के उम्मीदवार हैं. भोपाल से चुनाव लड़ने की बात पर साध्वी प्रज्ञा ने कहा, ‘हम तैयार हैं, अब उसी कार्य में लग गए हैं.’

साध्वी प्रज्ञा बुधवार को भोपाल स्थित भाजपा के कार्यालय पहुंचीं और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित कई नेताओं से मुलाकात की. भोपाल से भाजपा के मौजूदा सांसद आलोक संजर ने कहा कि उनको पार्टी का पूरा समर्थन है और पार्टी सुनिश्चित करेगी कि वह चुनाव जीतें.

मालूम हो कि साध्वी प्रज्ञा पर मालेगांव बम धमाके का आरोप है. उनके अलावा लेफ्टिनेंट कर्नल प्रसाद पुरोहित और छह अन्य आरोपी हैं.

नासिक जिले के मालेगांव में भिकू चौक के निकट 29 सितंबर 2008 को हुए बम विस्फोट में छह लोगों की मौत हुई थी और 101 से अधिक घायल हो गए थे. वह फिलहाल इस मामले में ज़मानत पर बाहर हैं.

साध्वी प्रज्ञा हमेशा से विवादों में रही हैं, वह भाजपा के युवा संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) और विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) की महिला इकाई दुर्गा वाहिनी से जुड़ी रही हैं.

हालांकि, मालेगांव मामले में अदालत ने उनके ख़िलाफ़ महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (मकोका) हटा दिया था. उन पर गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) के तहत मामले की सुनवाई चल रही है.