राजनीति

अगर भाजपा कार्यकर्ता पर किसी ने उंगली उठाई तो वह उंगली सलामत नहीं रहेगी: केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय मंत्री और ग़ाज़ीपुर से भाजपा सांसद मनोज सिन्हा ने कहा कि पूर्वांचल का कोई भी अपराधी ग़ाज़ीपुर में घुस नहीं सकता और भाजपा के कार्यकर्ताओं को तिरछी निगाह से नहीं देख सकता. अगर उसने ऐसा करने की हिमाक़त की तो उसकी आंखें नहीं रहेगी.

(फोटो साभार: फ़ेसबुक)

(फोटो साभार: फ़ेसबुक)

ग़ाज़ीपुर: केंद्रीय मंत्री व ग़ाज़ीपुर से मौजूदा सांसद मनोज सिन्हा ने धमकी दी है कि जो भी व्यक्ति किसी भाजपा कार्यकर्ता की तरफ उंगली उठाएगा, उसे केवल ‘चार घंटे’ में इसकी कीमत अदा करनी पड़ेगी.

ग़ाज़ीपुर सीट से फिर से लोकसभा का चुनाव लड़ रहे सिन्हा गुरुवार शाम को ग़ाज़ीपुर जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर सैदपुर इलाके में ‘किसान पंचायत सम्मेलन’ को संबोधित कर रहे थे.

59 वर्षीय सांसद मनोज सिन्हा ने कहा, ‘भाजपा कार्यकर्ता भ्रष्टाचार और आपराधिक गतिविधियों के जरिये अर्जित आय खत्म करने के लिए तैयार हैं. मैं आपको आश्वस्त कर सकता हूं कि अगर किसी भाजपा कार्यकर्ता की तरफ कोई भी उंगली उठी तो चार घंटों में वह उंगली सलामत नहीं रहेगी.’

उन्होंने कहा, ‘पूर्वांचल का कोई भी अपराधी ग़ाज़ीपुर में नहीं घुस सकता और भाजपा के कार्यकर्ताओं को तिरछी निगाह से नहीं देख सकता. अगर उसने ऐसा करने की हिमाकत की तो उसकी आंखें नहीं रहेगी.’

केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा माफिया से नेता बने मुख्तार अंसारी के भाई अफजल अंसारी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं.

मनोज सिन्हा भाजपा से तीन बार सांसद रह चुके हैं. वर्तमान में मनोज सिन्हा रेलवे और संचार मंत्रालयों में राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हैं.

ग़ाज़ीपुर में सातवें चरण के तहत 19 मई को वोट डाले जाएंगे.

एनडीटीवी की ख़बर के अनुसार, पिछले हफ्ते मनोज सिन्हा ने एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कहा था कि भारत को आतंकवाद का सामना नहीं करना पड़ता अगर आज जवाहरलाल नेहरू की जगह सरदार वल्लभभाई पटेल पहले वो प्रधानमंत्री बने होते.

(समाचार एजेंसी भाषा के इनपुट के साथ)