विशेष

चित्रकथा: निगमबोध श्मशान घाट पर एक दिन

राजधानी दिल्ली का निगम बोध घाट कश्मीरी गेट इलाके में यमुना नदी के किनारे स्थित है.

Nigambodh Ghat Wamika Singh

निगमबोध घाट का मुख्य द्वार.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 1

शवों को लाने वाली गाड़ी.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 7

शवों को इस स्थान पर रखकर अंतिम संस्कार से जुड़ी विधियां पूरी की जाती हैं.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 12

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 11

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 2

यहां सीएनजी शवदाहगृह भी है, जहां ईको फ्रेंडली तरीके से अंतिम संस्कार किया जाता है. सीएनजी शवदाहगृह में लकड़ी की जगह प्राकृतिक गैस का इस्तेमाल शवों को जलाने के लिए किया जाता है.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 5

सीएनजी शवदाहगृह में शव के जलने का इंतज़ार करते परिजन.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 9

सीएनजी शवदाहगृह में अंतिम संस्कार के बाद निकाली गई राख.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 8

अंतिम संस्कार के बाद बची राख सुरक्षित रखते परिजन.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 3

दोपहर के समय भोजन करते हुए शवदाहगृह के कर्मचारी.

 

Nigambodh Ghat Wamika Singh 4

फुर्सत के समय शवदाहगृह के कर्मचारी.

 

काम ख़त्म होने के बाद शाम को श्मशान घाट बंद करके घर जाते कर्मचारी राजेंद्र कुमार.

काम ख़त्म होने के बाद शाम को श्मशान घाट बंद करके घर जाते कर्मचारी राजेंद्र कुमार.

सभी फोटो: वामिका सिंह