भारत

मतदान के बाद नरेंद्र मोदी के रोड शो करने को लेकर चुनाव आयोग ने मांगी रिपोर्ट

चुनाव आयोग ने कहा है कि अहमदाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मिनी रोड शो की जांच की जा रही है. अपना वोट डालने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने एक खुली जीप की सवारी की, सड़क पर चले और यहां तक कि एक छोटा भाषण भी दिया.

गुजरात के अहमदाबाद में अपना वोट डालने के बाद रोडशो करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो साभार: एएआई)

गुजरात के अहमदाबाद में अपना वोट डालने के बाद रोडशो करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो साभार: एएआई)

नई दिल्ली: गुजरात के अहमदाबाद में मतदान के बाद रोड शो को लेकर  विपक्षी नेताओं के विरोध दर्ज कराने के बाद चुनाव आयोग ने कहा कि उसने गुजरात के मुख्य चुनाव अधिकारी से गुजरात के अहमदाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मिनी रोड शो की रिपोर्ट मांगी है.

एनडीटीवी के अनुसार, गुजरात के अहमदाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को मतदान करने गए थे. चुनाव आयोग ने कहा है कि अहमदाबाद में उनके मिनी रोड शो की जांच की जा रही है. अपना वोट डालने के बाद प्रधानमंत्री ने एक खुली जीप की सवारी की, सड़क पर चले और यहां तक कि एक छोटा भाषण भी दिया.

विपक्षी नेताओं के इस मामले में विरोध दर्ज कराने के बाद चुनाव आयोग ने बुधवार की शाम को कहा कि उसने गुजरात के मुख्य चुनाव अधिकारी से इस मामले पर रिपोर्ट मांगी है.

इस दौरान मोदी ने कहा था, ‘आतंकवाद का हथियार आईईडी है. लोकतंत्र की ताकत मतदाता पहचान पत्र है. मैं निश्चित रूप कह सकता हूं कि मतदाता पहचान पत्र आईईडी की तुलना में बहुत अधिक शक्तिशाली है, इसलिए हमें अपने मतदाता पहचान पत्रों की ताकत को समझना चाहिए.’

पीएम मोदी ने यह बात ‘आईईडी बनाम वोटर आईडी’ थीम पर कही, जो कि उनकी सरकार के राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रचार को दर्शाती है.

उधर, वायनाड में भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए ने वायनाड लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. कहा गया है कि राहुल ट्विटर के जरिए वोट के लिए खुले आम प्रचार कर रहे थे जबकि निर्वाचन क्षेत्र में मतदान जारी था.

वायनाड सीट के चुनाव अधिकारी के पास दर्ज शिकायत में एनडीए प्रत्याशी एवं भारत धर्म जन सेना (बीडीजीएस) नेता तुषार वेल्लापल्ली के मुख्य चुनाव एजेंट सिनिल कुमार जी ने राहुल गांधी की तरफ से उनकी महत्वाकांक्षी न्याय योजना पर किए गए एक ट्वीट के प्रिंट आउट को संलग्न किया गया है.

कुमार ने आरोप लगाया कि राहुल ने निर्वाचन क्षेत्र में 21 अप्रैल को शाम पांच बजे खुले आम प्रचार करने की समय सीमा समाप्त होने के बाद भी वोट मांगने के लिए प्रचार किया.

सिनिल कुमार ने अपनी शिकायत में कहा है कि, ‘राहुल गांधी जो वायनाड से प्रत्याशी हैं उन्हें मतदान जारी रहने के दौरान भी अपने पक्ष में मतों को मोड़ने के लिए खुले आम प्रचार करते हुए देखा गया.’

एनडीए ने तर्क दिया है कि उनके इस कदम ने वायनाड सीट पर निष्पक्ष चुनाव की विश्वसनीयता को गंभीर नुकसान पहुंचाया है और इस उम्मीदवार (राहुल गांधी) के खिलाफ उचित कठोर कार्रवाई की जाए जिसने चुनाव संहिता, नियमों, कानूनों एवं नियमनों का खुले आम उल्लंघन किया.

राहुल गांधी ने मंगलवार की सुबह किए गए अपने ट्वीट में कहा, ‘पूरे भारत में लाखों युवा मतदान करने के लिए बाहर निकल रहे हैं, इनमें से कई पहली बार मतदान कर रहे हैं. उनके हाथों में भारत का भविष्य है. मुझे भरोसा है कि वह प्रत्येक भारतीय के लिए न्याय चाहते हैं और वे बुद्धिमानी से मतदान करेंगे.’