भारत

टिकट नहीं मिलने से नाराज़ उदित राज ने भाजपा छोड़ी, कांग्रेस में शामिल हुए

उत्तर-पश्चिम दिल्ली लोकसभा सीट से टिकट नहीं मिलने से नाराज़ उदित राज ने भाजपा छोड़ दी है. उनकी जगह गायक हंसराज हंस को इस सीट से टिकट दिया गया है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ उदित राज. (फोटो साभार: एएआई)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ उदित राज. (फोटो साभार: एएआई)

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव 2019 के लिए दिल्ली की उत्तर पश्चिम सीट से टिकट नहीं दिए जाने से नाराज़ सांसद उदित राज बुधवार को भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गए हैं.

वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हुए.

कांग्रेस में शामिल होने के बाद उदित राज ने ट्वीट कर कहा, ‘आज मैं कांग्रेस में शामिल हुआ. राहुल गांधी जी का धन्यवाद.’

उन्होंने कांग्रेस में शामिल होने से पहले एक और ट्वीट कर कहा था, ‘अगर मुझे पहले बता दिया गया होता तो इतना कष्ट नहीं होता. पार्टी को इतना कष्ट क्यों करना पड़ा की नामांकन के आखिरी दिन एक बजे नाम की घोषणा करनी पड़ी. पहले कह देते तो मुझे कोई तकलीफ़ नहीं होती. किराएदार हूं बात मान लेना पड़ता.’

भाजपा ने दिल्ली की उत्तर पश्चिम सीट से उदित राज को टिकट न देकर गायक हंसराज हंस को टिकट दिया है. 

इससे पहले उत्तर-पश्चिम दिल्ली सीट से उम्मीदवार नहीं बनाए जाने को लेकर उदित राज ने इस्तीफ़ा देने और निर्दलीय उम्मीदवार के तौर खड़ा होने की धमकी दी थी.

उदित राज ने मंगलवार सुबह ट्वीट कर कहा था, ‘मैं इंतज़ार कर रहा हूं, अगर मुझे टिकट नहीं दिया जाता तो मैं पार्टी को अलविदा कह दूंगा.’

मालूम हो कि उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट से भाजपा उम्मीदवार उदित राज ने फरवरी 2014 में अपनी दल इंडियन जस्टिस पार्टी (आईजेपी) का भाजपा में विलय करा दिया था. उदित राज भाजपा के उन सात सांसदों में से एक थे जिन्होंने दिल्ली की सभी सीटों पर पार्टी के लिए जीत हासिल की थी.