भारत

टिकट कटने पर बोले केंद्रीय मंत्री विजय सांपला, बहुत दुख हुआ भाजपा ने गोहत्या कर दी

केंद्रीय राज्य मंत्री विजय सांपला ने कहा कि क्षेत्र में एयरपोर्ट बनवाया, रेल गाड़ियां चलाईं, सड़कें बनवाईं. अगर यही दोष है तो मैं अपनी आने वाली पीढ़ियों को समझा दूंगा कि वे ऐसी ग़लतियां न करें.

केंद्रीय मंत्री विजय सांपला. (फोटो साभार: फेसबुक)

केंद्रीय मंत्री विजय सांपला. (फोटो साभार: फेसबुक)

चंडीगढ़: होशियारपुर लोकसभा सीट से फिर से टिकट नहीं मिलने से नाराज केंद्रीय राज्य मंत्री विजय सांपला ने सोमवार को कहा कि भाजपा ने ‘गोहत्या’ की है. भाजपा ने होशियारपुर लोकसभा सीट से फगवाड़ा के विधायक सोम प्रकाश को पार्टी प्रत्याशी चुना है.

केंद्रीय मंत्री ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर अपना गुस्सा जाहिर किया. उन्होंने कहा, ‘बहुत दुख हुआ भाजपा ने गो हत्या कर दी.’ एक अन्य ट्वीट में दलित नेता ने अपनी साफ-सुथरी छवि प्रस्तुत करने की कोशिश की और पार्टी से पूछा कि उनकी क्या गलती थी और उन्हें टिकट क्यों नहीं दिया गया.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘कोई दोष तो बता देते? मेरी ग़लती क्या है… मुझ पर भ्रष्टाचार का कोई इल्ज़ाम नहीं है… आचरण पर कोई ऊंगली नहीं उठा सकता.’ उन्होंने सांसद के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान किए गए विकास कार्यों का भी उल्लेख किया.

सांपला ने ट्वीट किया, ‘क्षेत्र में एयरपोर्ट बनवाया, रेल गाड़ियां चलाईं, सड़कें बनवाईं.’ उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘अगर यही दोष है तो मैं अपनी आने वाली पीढ़ियों को समझा दूंगा कि वे ऐसी ग़लतियां न करें.’

भाजपा ने पंजाब से पार्टी के तीन प्रत्याशियों की मंगलवार को घोषणा की और अभिनेता सन्नी देओल को गुरदासपुर से और मौजूदा सांसद किरण खेर को चंडीगढ़ से फिर से टिकट देने का निर्णय किया.

हालांकि, पार्टी ने होशियारपुर से केंद्रीय मंत्री विजय सांपला के स्थान पर सोम प्रकाश को अपना उम्मीदवार चुना. सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी सोम प्रकाश 2009 के चुनाव में कांग्रेस के संतोष चौधरी से हार गए थे. इसके बाद 2014 में भाजपा नें वहां से सांपला को उतारा था.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, सूत्र बताते हैं कि होशियारपुर में सांपला को बदलने की तैयारी 2017 में ही तब शुरू हो गई थी जब वह भाजपा प्रदेश अध्यक्ष थे. उस समय कांग्रेस पंजाब में भाजपा -अकाली गठबंधन को हराते हुए विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की थी. इसके बाद उन्हें पार्टी अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था.

पंजाब भाजपा अध्यक्ष स्वाइत मलिक ने कहा, यह अकेले का फैसला नहीं था बल्कि भाजपा की संसदीय दल की बैठक में इसका फैसला लिया गया था. उस समय बैठक में अमित शाह और अरुण जेटली सहित अन्य शीर्ष नेता मौजूद थे.

उन्होंने कहा कि उन्हें सांपला की के ‘गोहत्या’ वाले ट्वीट के बारे में कोई जानकारी नहीं है.