राजनीति

मोदी के पास 2.5 करोड़ की संपत्ति, गुजरात यूनिवर्सिटी से एमए डिग्री, कोई आपराधिक केस नहीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन दाख़िल किया. चुनाव आयोग को दिए हलफ़नामे में उन्होंने जशोदाबेन को अपनी पत्नी बताया है. लगातार दूसरी बार वाराणसी से चुनाव लड़ रहे मोदी ने 2014 में कुल 1.65 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की थी.

नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी से लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन दाख़िल कियाण् (फोटो साभार: ट्विटर)

नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी से लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन दाख़िल कियाण् (फोटो साभार: ट्विटर)

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को चुनाव आयोग को दिए गए हलफ़नामे में बताया कि उनके पास गुजरात के गांधीनगर में एक आवासीय भूखंड, 1.27 करोड़ रुपये का सावधि जमा (एफडी) और 38,750 रुपये नकद सहित 2.5 करोड़ रुपये की संपत्ति है.

हलफनामे के मुताबिक, मोदी ने जशोदाबेन को अपनी पत्नी बताया है. उन्होंने यह भी बताया है कि उनके पास 1983 में गुजरात विश्वविद्यालय से ली गई एमए की डिग्री है.

मोदी ने अपने शपथ पत्र में बताया है कि उन्होंने 1978 में दिल्ली विश्वविद्यालय से कला में स्नातक किया है और 1967 में गुजरात बोर्ड से एसएससी की परीक्षा पास की.

प्रधानमंत्री ने 1.41 करोड़ रुपये की चल संपत्ति और 1.1 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति घोषित की है. मोदी ने टैक्स सेविंग इन्फ्रा बॉन्ड्स में 20,000 रुपये, राष्ट्रीय बचत प्रमाण-पत्र (एनएससी) में 7.61 लाख रुपये और एलआईसी की पॉलिसियों में 1.9 लाख रुपये का निवेश किया है.

बैंक में मोदी के बचत खाते में उनका नकद शेष 4,143 रुपये है. मोदी के पास सोने की चार अंगूठियां हैं, जिनका वज़न 45 ग्राम है. इनकी कीमत 1.13 लाख रुपये है.

प्रधानमंत्री ने हलफ़नामे में संपत्ति का विवरण दिया है, जो नामांकन-पत्र दाख़िल करने के लिए एक अनिवार्य आवश्यकता है. मोदी के पास गांधीनगर के सेक्टर-1 में 3,531 वर्ग फुट का प्लॉट है.

शपथ पत्र के अनुसार, इस संपत्ति का अनुमानित मूल्य, जिसमें भूखंड पर एक आवासीय इकाई शामिल है, 1.1 करोड़ रुपये है.

मोदी ने ‘सरकार से वेतन’ और ‘बैंक से ब्याज’ को अपनी आय का स्रोत बताया है, जबकि उनकी पत्नी की आय के स्रोत के बारे में हलफ़नामे में ‘ज्ञात नहीं’ लिखा है. उनकी पत्नी के पेशे या व्यवसाय को भी ‘ज्ञात नहीं’ के रूप में लिखा गया है.

प्रधानमंत्री मोदी ने हलफ़नामे में बताया है कि उनके ख़िलाफ़ कोई आपराधिक केस लंबित नहीं है और न ही उन पर कोई सरकारी बकाया राशि है.

लगातार दूसरी बार वाराणसी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे मोदी ने 2014 में कुल 1.65 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की थी.